Thursday, January 28, 2021 02:11 PM

नहीं चलेगी ऑनलाइन स्टडी की अनदेखी, शिक्षा विभाग के पास आ रही स्टडी मैटीरियल न पहुंचने की शिकायतें

शिक्षा विभाग के पास आ रही स्टडी मैटीरियल न पहुंचने की शिकायतें, अब उपनिदेशकों को जारी किया रिमाइंडर

स्कूल, कालेजों के कई शिक्षक छात्रों की ऑनलाइन स्टडी को अनदेखा कर रहे हैं। शिक्षा विभाग ने इस बाबत गत बुधवार को जिला उपनिदेशकों को रिमाइंडर जारी किया है। उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक का कहना है कि कालेज व विश्वविद्यालय में कई विषयों के छात्रों को स्टडी मैटीरियल ऑनलाइन नहीं मिल रहा है। इसके साथ ही कई ऐसे कालेज व विवि है, जहां पर एमएससी, एलएलबी, व कई विषयों के छात्रों का शेड्यूल जारी होने के बाद भी क्लासेज नहीं लग रही हैं। फिलहाल अब शिक्षा विभाग ने उपनिदेशको विवि के कुलपति और स्कूल, कालेज प्रबंधन को ऑनलाइन पढ़ाई को हररोज अनिवार्य किया है।

जिला उपनिदेशकों को जारी किए गए रिमाइंडर में शिक्षा विभाग ने कहा है कि अब  केवल ऑनलाइन स्टडी ही एक माध्यम बचा है। ऐसे में कोविड काल में शिक्षा की गुणवत्ता बाधित न हो, इसके लिए ऑनलाइन माध्यम अपनाया जाए। फिलहाल छात्रों की ऑनलाइन स्टडी पर शिक्षकों को सतर्क रहने के आदेश शिक्षा विभाग ने एक बार फिर से जारी किए हैं। स्कूलों के शिक्षकों को शिक्षा विभाग ने साफ तौर पर कहा गया है कि वह स्वयं सिद्धम पोर्टल से कक्षा वाइज छात्रों का मैटीरियल उठाएं। बता दें कि शिक्षा विभाग ने स्वयं सिद्धम पोर्टल पर ऑनलाइन स्टडी का पूरा मैटीरियल डाला है।

कक्षा नौवीं से जमा दो तक के छात्रों की पढ़ाई से जुडे़ सभी विषय ऑनलाइन उपलब्ध करवा दिए गए हैं। हालांकि नौवीं से लेकर जमा दो तक के छात्रों की सेकेंड टर्म परीक्षाएं भी लगी हैं। इन छात्रों को भी जिओ, व्हाट्सऐप, विभाग के पोर्टल पर स्टडी मैटीरियल उपलब्ध होगा। यही वजह है कि एक बार फिर से शिक्षा विभाग ने अधिसूचना जारी कर कहा है कि शिक्षक यू-ट्यूब, व्हाट्सऐप ग्रुप, यू-ट्यूब चैनल, ई-मेल ग्रुप्स, वेबसाइट के माध्यम से छात्रों को यह सिलेब्स मुहैया करवाएं, ताकि ऑनलाइन स्टडी का हिस्सा छात्र बन पाएं, इसके साथ ही छात्रों की पढ़ाई ज्यादा प्रभावित न हो। शिक्षा विभाग ने इस बाबत जिला उपनिदेशकों को भी शिक्षकों को सख्त आदेश देने को कहा है।

निदेशालय से शिक्षकों पर नजर

शिक्षा विभाग शिक्षकों की ऑनलाइन स्टडी पर प्रोग्रेस रिपोर्ट भी चैक करेगा। शिक्षा अधिकारी निदेशालय से 70 हजार से ज्यादा शिक्षकों पर नजर रखेगा। वहीं जो शिक्षक ऑनलाइन स्टडी में सबसे पीछे रहेंगे, उन्हें मैसज भी शिक्षा विभाग की ओर से जाएगा, वहीं इस दौरान उनसे जवाब-तलब किया जाएगा। शिक्षा निदेशक  अमरजीत सिंह की ओर से जारी आदेशों में कहा गया है कि डिजिटल लर्निंग को हल्के में न लिया जाए।

The post नहीं चलेगी ऑनलाइन स्टडी की अनदेखी, शिक्षा विभाग के पास आ रही स्टडी मैटीरियल न पहुंचने की शिकायतें appeared first on Divya Himachal.