Sunday, March 07, 2021 11:21 PM

तेज गेंदबाज नटराजन का भव्य स्वागत, क्वारंटीन में रहने को कहा, क्यों, जानने के लिए पढ़ें खबर

बैंकाक — भारत के सात्विकसैराज रेंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने टोयोटा थाईलैंड ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के मिश्रित युगल के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। शुक्रवार को खेले गए क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया सात्विकसैराज रेंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा पांचवीं सीड मलेशियाई जोड़ी चान पेंग सून आउट गोह लियू यिंग को एक घंटे 15 मिनट तक चले तीन गेमों के कड़े संघर्ष में 18-21 24-22 22-20 से पराजित किया। भारतीय जोड़ी का सेमीफाइनल में शीर्ष वरीयता प्राप्त थाईलैंड की जोड़ी डेचापोल पुआवारानुकरोह और सपसीरीतेरातनचई से मुकाबला होगा।

चेन्नई — ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से ऐतिहासिक टेस्ट शृंखला जीत का हिस्सा रहे भारतीय तेज गेंदबाज टी नटराजन का गुरुवार को तमिलनाडु के उनके सलेम जिला में प्रवेश करने पर भव्य स्वागत हुआ लेकिन उन्हें क्वारंटीन में रहने के लिए कहा गया है। नटराजन ने ऑस्ट्रेलिया में तीनों फॉर्मेट में पदार्पण किया था। अपने राज्य की आंखों का नूर बन गए नटराजन रथ पर सवार होकर जुलूस के साथ अपने मूल निवास सलेम जिले के चिन्नापम्पपट्टी गांव पहुंचे, जहां गांववासियों और जिला अधिकारियों ने उनका माला पहना कर स्वागत किया।

इस बीच राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी उनके घर पहुंचे और उन्हें अनिवार्य 14 दिन के क्वारंटीन में रहने के लिए कहा। नटराजन को क्वारंटीन अवधि के दौरान किसी से भी न मिलने के लिए कहा गया है, हालांकि भारत लौटने से पहले उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में कोरोना टेस्ट कराया था, जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी।

नटराजन के आने की जानकारी मिलने पर पूरे गांव में उत्सव का माहौल बन गया। गांववासी नटराजन के स्वागत में पालक-पांवड़े बिछाए बैठे थे। नटराजन ने मुंह पर मास्क लगा रखा था और हाथों में दस्ताने पहने हुए थे। उनके गांव के ही नहीं, बल्कि पड़ोसी जिलों के सैकड़ों लोग उन्हें बधाई देने पहुंचे।

स्थानीय लोगों ने लोक नृत्यों, ड्रम बजा कर, पटाखे फोड़ कर और गुलदस्ते भेंट कर उनका स्वागत किया। कई लोगों ने उनके साथ तस्वीरें लीं। लोगों के इस प्यार और सत्कार से अभिभूत नटराजन ने हाथ जोड़ कर सभी का अभिवादन किया। उल्लेखनीय है कि नटराजन एक ही दौरे में क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में पदार्पण करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं।