Saturday, August 08, 2020 11:35 AM

नौणी विवि व उद्योग विभाग साझा करेंगे ज्ञान

दोनों पक्षों ने समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर, छात्रों के साथ औद्योगिक नीतियों पर होगी बात

नौणी-छात्रों को उद्योग की शिक्षा और उनमें उद्यमिता को बढ़ावा देने की ओर कदम बढ़ाते हुए, डा. वाईएस परमार औद्यानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी और उद्योग विभाग हिमाचल प्रदेश ने एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। इस समझौते का उद्देश्य विश्वविद्यालय और उद्योग के बीच का संपर्क और बेहतर करना है। मंगलवार को शिमला में निदेशक उद्योग एच आर शर्मा और नौणी विवि के कुलपति डा. परविंदर कौशल ने समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस समझौते के अंतर्गत दोनों पक्षों के बीच ज्ञान साझाकरण होगा और उद्योग विभाग के विशेषज्ञ नियमित रूप से औद्योगिक नीतियों और योजनाओं से अवगत कराने के लिए संकाय और छात्रों के साथ बातचीत करेंगे। इस अवसर पर कुलपति डा. परविंदर कौशल ने कहा कि यह समझौता विश्वविद्यालय और उद्योग के बीच संपर्क को बढ़ावा देने की पहल का हिस्सा है। इस समझौता से उद्यमिता, व्यवसाय प्रबंधन, संचार कौशल, व्यक्तित्व विकास, नेतृत्व और कार्यक्रम प्रबंधन आदि विषयों पर विशेषज्ञ व्याख्यान, गेस्ट लैक्चर और संसाधन व्यक्तियों के माध्यम से सामाजिक और प्रबंधकीय विज्ञान विषयों पर ज्ञान साझा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि एमओयू के तहत, विश्वविद्यालय में मौजूदा इंकुबेशन केंद्र को उपकरण के लिए विशेष धनराशि प्रदान करके मजबूत किया जाएगा, जिसका उपयोग छात्रों द्वारा किया जाएगा। । विश्वविद्यालय से डिप्लोमा/ सर्टिफिकेट उत्तीर्ण छात्रों को रोजगार ढूंढ़ने में आसानी होगी। भविष्य में औद्योगिक प्रायोजित प्रमाणपत्र कार्यक्रम शुरू करने का भी प्रावधान किया जाएगा जहां छात्रों, शोधकर्ताओं और उद्यमियों को औद्योगिक सेटअप, प्रयोगशाला और वैश्विक दक्षता के अन्य अनुसंधान एवं विकास बुनियादी ढांचे से अवगत करवाया जाएगा।

 

The post नौणी विवि व उद्योग विभाग साझा करेंगे ज्ञान appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.