Thursday, March 04, 2021 02:54 PM

Good News: पंचायत सचिव बनने का एक और मौका, अब 31 जनवरी तक कर सकेंगे अप्लाई, पढ़ें यह खबर

शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला, 10वीं-12वीं की फाइनल परीक्षाएं 20 अप्रैल से करवाने की तैयारी, बोर्ड को पत्र

प्रतिमा चौहान — शिमला

हिमाचल प्रदेश में अब बोर्ड के फाइनल एग्जाम को लेकर शिक्षा विभाग बड़ा बदलाव करने जा रहा है। दसवीं व जमा दो के फाइनल एग्जाम मई की जगह 20 अप्रैल से शुरू करने की तैयारी है। प्रदेश उच्च शिक्षा विभाग ने इस बाबत एचपी बोर्ड को पत्र लिखा है, ताकि  जल्द इस सेशन को पूरा किया जा सके और दूसरे सत्र के लिए छात्रों को देरी न हो जाए। ऐसे में अब शिक्षा विभाग की ओर से बनाए गए प्रोपोजल के अनुसार 20 अप्रैल से बोर्ड की परीक्षाएं शुरू करने के बाद 20 मई से पहले खत्म भी करनी हैं। इसके अलावा बताया जा रहा है कि बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षाएं भी अप्रैल से शुरू करने की बात विभाग की ओर से की जा रही है। अहम यह है कि शिक्षा विभाग ने फैसला लिया है कि बोर्ड छात्रों की प्री बोर्ड परीक्षाएं आठ मार्च से 16 मार्च तक रखी जाएंगी, ताकि 20 दिनों तक  प्री बोर्ड में कम अंक लेने वाले छात्रों की रिमेडियल क्लासेज लग सकें। शिक्षा विभाग ने बोर्ड को लिखे पत्र में बताया है कि 15 अप्रैल से रिमेडियल क्लासेस को बंद कर दिया जाएगा, ताकि उसके बाद चार व पांच दिन छात्र फाइनल एग्जाम की अपने तरीके से तैयारी कर सकें।

 फिलहाल उच्च शिक्षा विभाग ने बोर्ड एग्जाम के शेड्यूल को लेकर यह बड़ा बदलाव किया है। गुरुवार को ही इस बाबत निदेशालय से ई-मेल के जरिए बोर्ड को पत्र भेजा गया। इसके अलावा नॉन बोर्ड में 9वीं व जमा एक के छात्रों की  फाइनल परीक्षा आठ व 20 मार्च के बीच शिक्षा विभाग करवाएगा, ताकि 31 मार्च तक रिजल्ट भी निकाला जा सके। जानकारी मिली है कि 9वीं व जमा एक के छात्रों की प्रैक्टिकल परीक्षाएं भी फरवरी के अंत में स्कूल प्रबंधन को करवानी होगी। बता दें कि कोविड की वजह से दसवीं व जमा दो की बोर्ड परीक्षाएं देरी से हो रही हैं। हालांकि इससे पहले स्कूल शिक्षा बोर्ड ने एग्जाम को लेकर जो समय तय किया था, वह सात व आठ मई था। लेकिन अब शिक्षा विभाग चाहता है कि जल्द छात्रों के एग्जाम करवाएं जाएं, ताकि वर्ष 2021 में छात्रों की कक्षाएं फिजिकली रूप से लगाई जा सकें और नया सेशन इस बार कम न हो। हालांकि शिक्षा विभाग के प्रोपोजल पर स्कूल शिक्षा बोर्ड क्या फैसला लेता है, यह जानना अहम है। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार एक व दो दिन में बोर्ड व नॉन बोर्ड परीक्षाओं को लेकर अंतिम अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। अहम यह है कि प्रदेश के सरकारी स्कूल दस माह बाद खुल गए हैं। 27 जनवरी से शिक्षक नियमित तौर पर स्कूलों में आ रहे हैं।

जल्द परीक्षाओं से नीट-जेईई की तैयारी का मिलेगा मौका

शिक्षा विभाग का दावा है कि अगर अप्रैल माह में बोर्ड की परीक्षाएं शुरू हो जाती हैं, तो ऐसे में छात्रों को नीट-जेईई की तैयारी करने का मौका मिल जाएगा। बता दें कि हर साल बोर्ड के एग्जाम मार्च में खत्म हो जाते हैं और मई में रिजल्ट भी आ जाते हैं। ऐसे में अगर मई में परीक्षाएं शुरू होती हैं, तो छात्रों की आगामी शैक्षणिक गतिविधियां प्रभावित हो जाएंगी।

कालेजों को भी माइक्रो प्लान बनाने के निर्देश

हिमाचल प्रदेश में आठ फरवरी से डिग्री कालेजों में नियमित कक्षाएं शुरू होंगी। उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी कालेज प्राचार्यों से कक्षाएं शुरू होने से पहले माइक्रो प्लान बनाने के निर्देश दिए हैं। प्राचार्यों को सैनेटाइजेशन की व्यवस्था करने को कहा गया है।

यूजी की परीक्षाएं मार्च-अप्रैल में 

शिमला। यूजी कोर्स बीए, बीएससी व बीकॉम की परीक्षाएं मार्च व अप्रैल माह में होंगी। विश्वविद्यालय ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है। इसके साथ ही परीक्षा फार्म भरने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। उम्मीदवार बिना विलंब शुल्क 20 फरवरी तक परीक्षा फार्म भर सकते हैं और इसके बाद विश्वविद्यालय के नियमों के तहत विलंब शुल्क सहित परीक्षा फार्म जमा होंगे। परीक्षा फार्म भरने के लिए संबंधित जानकारी व लिंक वेबसाइट पर उपलब्ध करवा दी गई है। इसके अलावा बीटीटीएम, बीपीई व बीवॉक प्रथम, तृतीय, पांचवें  सेमेस्टर व बीएफए प्रथम, तृतीय, पांचवें व सातवें सेमेस्टर की परीक्षाएं फरवरी में संभावित हैं, जिसके लिए परीक्षा फार्म ऑनलाइन भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। बिना विलंब शुल्क उम्मीदवार परीक्षा फार्म 10 फरवरी तक भरे सकेंगे और इसके बाद विलंब शुल्क वसूला जाएगा।

एचपीयू ने बढ़ाई आवेदन करने की अंतिम तारीख

सिटी रिपोर्टर — शिमला

विवादों में चली पंचायत सचिवों के पद की भर्ती के लिए अभ्यार्थिंयों के लिए विश्वविद्यालय ने राहत दी है। अब पंचायत सचिव बनने के लिए अभ्यार्थी 31 जनवरी तक आवेदन कर सकते है। अभ्यर्थियों की मांग को मद्देनज़र रखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह निर्णय लिया है कि पंचायत सचिवों के ऑनलाईन आवेदन भरने के लिए आवेदन तिथि 17 जनवरी से बढ़ाकर 31 जनवरी तक कर दी गई है।

इच्छुक अभ्यर्थियों को सूचित किया जाता है कि अभी तक जिन अभ्यर्थियों ने पंचायत सचिव के पद के लिए ऑनलाइन आवेदन नहीं किया है, वे अब 31 जनवरी तक हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के वेब-पोर्टल पर उपरोक्त पद के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए इच्छुक अभ्यर्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट और पर देख भी सकते हैं। बता दें कि एचपीयू ने 239 पदों के लिए होने वाली भर्ती प्रक्रिया के लिए आवेदन करने की तिथि को बढ़ाने की मांग को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।

बीएड काउंसिलिंग आज और कल

शिमला। बीएड द्वितीय और तृतीय चरण की ऑनलाइन काउंसिलिंग से संबंधित सभी अभ्यर्थियों को सूचित किया जाता है कि द्वितीय चरण की ऑनलाइन काउंसिलिंग 21-22 जनवरी तथा तृतीय चरण की ऑनलाइन काउंसिलिंग 30 जनवरी से दो फरवरी तक  प्रारंभ होने जा रही है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए निम्नलिखित मोबाइल जारी किए हैं, ताकि अभ्यर्थियों को उपरोक्त काउंसिलिंग से संबंधित किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। सतीश कुमार 82196-06155, विवेक शर्मा 82194-32382 मोबाइल नंबरों पर छात्र बीएड काउंसिलिंग से संबंधित जानकारी ले सकते हैं।