Tuesday, September 22, 2020 07:21 PM

आउटसोर्स कर्मियों के लिए ठोस नीति बनाए सरकार

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — शिमला

आपात ड्यूटी में काम करते समय कोरोना से संक्रमित हो गए स्वास्थ्य विभाग के एक आउटसोर्स कर्मचारी ने सरकार ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि सरकार उनके लिए कोई ठोस नीति बनाए, ताकि उनका और उनके परिवार का भविष्य ठीक हो सके। कर्मी का कहना है कि ऐसा न हो कि कोरोना संक्रमण से उसे कुछ हो जाए और उसका परिवार परेशान हो जाए। ऐसे में सरकार को स्वास्थ्य विभाग में लगे आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए ठोस नीति बनानी चाहिए।

नागरिक अस्पताल सुजानपुर में पिछले सात साल से बीएमआईएस ऑपरेटर के पद पर कार्यरत कोरोना पॉजिटिव सचिन सोनी का कहना है कि वह विभाग में काम करते-करते कोरोना की चपेट में आ गया है। सात साल में जो भी काम अधिकारियों की ओर से उन्हें दिए गए हैं, वह ईमानदारी के साथ किए हैं और काम करते-करते ही वह संक्रमण की चपेट में आ गया।

उनका कहना है कि सरकार को चाहिए कि वह आउटसोर्स पर काम करने वालों के लिए कोई ऐसी नीति बनाए, जिससे उनका भविष्य बेहतर हो। क्योंकि वे भी विभाग में उतना ही काम करते हैं, जितना कि एक सरकारी कर्मचारी, लेकिन उसके बाद भी उनके लिए आज तक कोई भी पॉलिसी नहीं बनाई गई है।

The post आउटसोर्स कर्मियों के लिए ठोस नीति बनाए सरकार appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.