Tuesday, November 30, 2021 08:14 AM

पंचायत सचिव परीक्षा ...सेंटर दूर होने से अभ्यर्थी खफा

239 पदों के लिए एचपीयू ने घर से 80-100 किलोमीटर दूर अलाट किए परीक्षा केंद्र, कल होगा एग्जाम सिटी रिपोर्टर-सोलन जरा सोचिए अगर आप बेरोजगार हैं और ऊपर से किसी परीक्षा के आयोजन को लेकर आप लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं। इसी बीच परीक्षा की सूचना आती है और एडमिट कार्ड डाउनलोड करते ही आपको पता चलता है कि आपका परीक्षा केंद्र आपके घर से करीब 80 से 100 किलोमीटर दूर है तो आप पर क्या बीतेगी। ऐसा ही कुछ पंचायत सचिव की परीक्षा में बैठने की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के साथ हुआ। करीब एक साल से पंचायत सचिव की परीक्षा के इंतजार में बैठे परीक्षार्थियों के हाथ उस समय मायूसी हाथ लगी जब उन्हें पता चलता है कि उनका परीक्षा केंद्र करीब 100 किलोमीटर दूर है। परिधि से कई किलोमीटर दूर परीक्षा केंद्र अलॉट होने के कारण पंचायत सचिव की परीक्षा में भी परीक्षार्थियों की संख्या कम रह सकती है। परीक्षा केंद्र दूर अलॉट किए जाने के कारण अभ्यर्थियों में रोष व्याप्त है। परीक्षा केंद्र दूर होने के कारण परीक्षार्थी परीक्षा में बैठने की बजाय अभी से कतराने लगे हैं। 239 पंचायत सचिव पदों के लिए हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय द्वारा 22 अक्तूबर को परीक्षा आयोजित की जा रही है।

इस परीक्षा के संदर्भ में विश्वविद्यालय द्वारा अभ्यर्थियों की परिधि से बाहर कई किलोमीटर दूर परीक्षा केंद्र अलॉट कर दिए गए हैं। जिस कारण इस परीक्षा में भी बैठने वाले परीक्षार्थियों की संख्या कम रह सकती है। गौरतलब है कि 17 अक्तूबर को हमीरपुर कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित क्लर्क की परीक्षा में भी जिला सोलन में 43 फीसदी परीक्षार्थियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई थी। इस परीक्षा में भी अन्य कारणों सहित परीक्षा केंद्रों के दूर अलॉट किए जाने के कारण परीक्षार्थियों की संख्या कम रही थी। यही हाल अब पंचायत सचिव की परीक्षा में देखने को मिल रहा है। दूरदराज क्षेत्रों में सेंटर अलॉट किए जाने के कारण पंचायत सचिव की परीक्षा में भी परीक्षार्थियों की संख्या काफी कम रहने की उम्मीद जताई जा रही है। एक साल से परीक्षा का कर रहे इंतजार पंचायत सचिव के 239 पदों के लिए हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय द्वारा दिसंबर 2020 में आवेदन आमंत्रित किए गए।

जाहिर सी बात है कि प्रदेश में बेरोजगारी की बढ़ती संख्या के मद्देनजर इस परीक्षा के लिए भी लाखों अभ्यर्थियों ने आवेदन किया होगा। लेकिन एडमिट कार्ड में परीक्षा केंद्र दूर दराज क्षेत्रों में अलॉट होने के कारण अभ्यर्थियों के हाथ मायूसी लगी है। परीक्षा केंद्र दूर होने से कतराने लगे परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र दूर होने के कारण अभी से परीक्षार्थी कतराने लगे हैं। खासकर महिला परीक्षार्थी दूरदराज क्षेत्रों में परीक्षा केंद्र अलॉट होने के कारण अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। दूर दराज क्षेत्रों में परीक्षा केंद्र होना कई परीक्षार्थियों की जेब पर भी भारी पड़ रहा है। इन सब कारणों में सबसे बड़ा कारण जो उभर कर सामने आ रहा है वो है समय पर परीक्षा केंद्र पर पहुंच पाना। अभ्यर्थियों ने नाम न लिखने की शर्त पर कहा कि परीक्षा केंद्र दूर होने के कारण उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। उनके अनुसार परीक्षा को लेकर जितना वे उत्साहित थे उतना ही मायूस परीक्षा केंद्रों को देख कर हुए।