Sunday, November 29, 2020 03:12 PM

पानी पीते-पीते पढ़ेंगे पर्यावरण संरक्षण का पाठ, नौवीं के छात्रों को मिलेंगी ईको फ्रेंडली बोतल

छात्र-छात्राओं का रुझान पर्यावरण संरक्षण की ओर ले जाने के लिए शिक्षा विभाग समय-समय पर कभी स्लोगनों तो कभी वाद-विवाद प्रतियोगिताओं से जागरूक करता रहता है। शिक्षा विभाग ने पहली बार ऐसी योजना बनाई है कि पानी का एक-एक घूंट पीते वक्त पर्यावरण संरक्षण का संकल्प छात्र-छात्राओं की आंखों के सामने रहेगा। दरअसल विभाग ने बच्चों को स्कूलों में पेयजल के लिए ईको फ्रेंडली बोतल देने की योजना बनाई है। ये सारी बोतलें मिल्टन की बोतलों की तरह होगी और इसमें प्लास्टिक हटाओ, पर्यावरण बचाओ जैसे स्लोगन भी चस्पां होंगे।

फिलहाल ये बोतलें प्रदेश भर के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले नौंवी कक्षा के छात्र-छात्राओं को दी जाएंगी। जानकारी है कि पहली खेप के रूप में छह जिलों के 38,960 छात्रों को ये बोतलें बांटी जाएगी। इनमें मंडी जिला के 13672 छात्रों को, कांगड़ा के 12975, कुल्लू के 6849, हमीरपुर के 4430, रिकांगपिओ के 745 और लाहुल-स्पीति जिला के 289 छात्रों को ये बोतलें बांटी जाएंगी। बोतलों की खेप जिला के उच्च शिक्षा उपनिदेशक कार्यालयों में पहुंच गई है। प्रदेश के छात्र-छात्राओं को 750 एमएल की मिल्टन मॉडल की तरह स्टील की बोतलें फ्री में दी जाएंगी, ताकि छात्र स्कूल में साफ पानी प्रयोग करें।

विपक्ष बनाएगा मुद्दा

प्रदेश में नौंवीं कक्षा के छात्रों को ईको फ्रैंडली बोतलें बांटी जाएंगी, उन बोतलों पर प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के फोटो भी चस्पां किए गए हैं। ऐसे में बोतलें बांटने पर विपक्ष एक बार फिर हंगामा कर सकता है। क्योंकि इससे पहले भी वर्तमान सरकार ने स्कूलों के बैग पर मुख्यमंत्री के फोटो छापे थे, जिस पर विपक्ष ने खूब हंगामा भी किया था।

The post पानी पीते-पीते पढ़ेंगे पर्यावरण संरक्षण का पाठ, नौवीं के छात्रों को मिलेंगी ईको फ्रेंडली बोतल appeared first on Divya Himachal.