Saturday, August 15, 2020 03:34 PM

परीक्षा करवाने से पहले सोच ले सरकार

धर्मशाला-कांग्रेस से जुड़े छात्र संगठन एनएसयूआई के विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी रजत राणा ने यूजीसी की ओर से जारी नए दिशा-निर्देशों का विरोध किया है। इसमें सितंबर के आखिरी तक विश्वविद्यालयों और कालेजों में परीक्षाएं करवाने की बात कही गई है। एनएसूयआई का कहना है कि परीक्षाएं करवाने से पहले केंद्र सरकार को पूरी तैयारी करनी चाहिए।  इस फैसले से छात्रों के स्वास्थ्य पर भी बड़ा खतरा है। इजरायल में भी इस तरह का छात्र विरोधी निर्णय लिया था, जिसके कारण कोरोना संक्रमण की वजह से लगभग सात हजार छात्रों और शिक्षकों को क्वारंटाइन करना पड़ा था। रजत राणा ने कहा है कि अगर आईआईटी बॉम्बे फाइनल इयर की एग्जाम कैंसिल कर सकता है, तो बाकी विश्वविद्यालय ऐसा क्यों नहीं कर सकते हैं। उनका कहना है कि एक तरफ देश के प्रधानमंत्री लोगों को घर में रहने की ही हिदायत दे रहे हैं, तो वहीं खतरे की तरफ बढ़ रहे हैं। आज भारत इस महामारी के चलते विश्व में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है।

The post परीक्षा करवाने से पहले सोच ले सरकार appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.