Tuesday, November 30, 2021 07:54 AM

महंगे खर्च पर टैक्सी करने को मजबूर मरीज

सालवां में 108 एंबुलेस सेवा न होने से दस पंचायतों के लोगों को हो रही परेशानी निजी संवाददाता-तेलका प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सालवां में 108 एंबुलेस सेवा न होने से दस पंचायतों के लोगों को काफी मुश्किलें पेश आ रही हैं। आपातकाल में एंबुलेंस सुविधा न मिलने से तीमरदारों को मजबूरन महंगे खर्च पर टैक्सी करके मरीज को मेडिकल कालेज पहुंचाना पड़ रहा है। ग्रामीणों की गत दो वर्षो से 108 एंबुलेंस सेवा की उपलब्धता सुनिश्चित बनाने की मांग पर कोई सुनवाई नहीं हो पा रही है। पीएचसी सालावां में बाड़का, भजोत्रा, सालवां, मौड़ा, सेरी, करवाल, नड्डल, द्रेकड़ी व सिंऊला आदि पंचायतों के लोग रोजाना उपचार के लिए आते हैं। मगर कई बार मरीज की गंभीर हालत होने के चलते 35 किलोमीटर दूर सलूणी या 25 किलोमीटर दूर सुंडला से 108 एंबुलेंस सेवा के लिए संपर्क करना पड़ता है।

108 एंबुलेंस सेवा के लिए घंटों इंतजार की बजाय तीमारदार मरीजों को टैक्सी वाहन के जरिए ले जाना उचित समझते हैं, क्योंकि पूर्व में एंबुलेंस के इंतजार में कई मरीज समय पर चिकित्सीय सुविधा न मिलने से बीच रास्ते में दम तोड़ चुके हैं। ग्रामीणों की मानें तो पीएचसी सालवां में 108 एंबुलेंस सेवा की सुविधा को लेकर वे पिछले काफी समय से मांग बुलंद किए हुए हैं, लेकिन सिवाय आश्वासनों के कुछ भी नहीं मिल पाया है। सरकार व स्वास्थ्य विभाग का यह रवैया घरद्वार के नजदीक बेहतर सुविधा देने के दावों की पोल भी खोल रहा है। बहरहाल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सालवां में 108 एंबुलेंस सुविधा न होने से दस पंचायतों के लोगों को मजबूरन महंगे खर्च पर टैक्सी वाहनों में मरीजों को उच्च स्वास्थ्य संस्थानों में पहुंचाना पड़ रहा है। शिव मंदिर खड़ामुख में हवन-यज्ञ भरमौर। शिवभूमि सेवा दल कमेटी खड़ामुख का स्थापना दिवस बुधवार को खड़ामुख में मनाया गया। इस मौके पर जिला परिषद के खणी वार्ड सदस्य अनिल कुमार ने मुख्य रूप से उपस्थिति दर्ज करवाई। इस दौरान शिव भूमि सेवादल के पदाधिकारियों व सदस्यों ने शिव मंदिर खड़ामुख में हवन-यज्ञ किया। कमेटी के अध्यक्ष योगीनाथ ने कहा कि शिव भूमि सेवादल की स्थापना को नौ वर्ष हो गए है। उन्होंने कहा कि सेवादल समाज को विभिन्न मुद्दों पर जागरूक करने का काम कर रहा है। वहीं, प्राकृतिक खेती समेत लोगों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में काम कर रहा है।