Saturday, October 24, 2020 02:30 AM

पांवटा साहिब में कोरोना मरीजों को होम्योपैथी पर भरोसा

कोरोना महामारी के दौरान पांवटा साहिब के लोगों ने होम्योपैथी पर भरोसा दिखाया है। उपमंडल के 70 से 80 प्रतिशत लोग उपचार के लिए होम्योपैथी चिकित्सक डा. रोहताश नांगिया के संपर्क में हैं। जानकारी के मुताबिक पांवटा साहिब में कोरोना पेशेंट होम्योपैथी पर भरोसा जता रहे हैं। पांवटा साहिब के लोग अपने लिए ही नहीं, बल्कि अन्य प्रदेशों में अपने रिश्तेदारों को भी होम्योपैथी दवा भेज रहे हैं। इनमें प्रदेश की राजधानी शिमला तक से लेकर दूसरे प्रदेशों में चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश सहित दिल्ली तक डा. रोहताश नांगिया की होम्योपैथी दवाइयों को लोगों द्वारा अपने रिश्तेदारों को भेजा जा रहा है। सूचना के मुताबिक डा. नांगिया से कोरोना संक्रमित भी कई मरीज संपर्क कर खुद को स्वस्थ कर चुके हैं।

इनमें बिना लक्षण वाले मरीजों की तो भरमार है ही साथ-साथ लक्षण वाले भी कई मरीज शामिल हैं। प्रदेश के कुछ मंत्री तक इनकी दवा का सेवन कर खुद को स्वस्थ कर चुके हैं। गौर हो कि होम्योपैथी चिकित्सक एमडी डा. रोहताश नांगिया मार्च माह से कोरोना वायरस से लड़ने वाली दवा बनाने का दावा कर रहे हैं और तभी से उनके पास स्वैच्छा से पहुंचे हजारों लोगों का निःशुल्क उपचार भी कर चुके हैं। अपने किए शोध में वह दावा करते हैं कि उनकी बनाई दवा कोरोना वायरस को खत्म करने की क्षमता रखती है। उनसे जिन संक्रमित मरीजों ने भी दवा ली है वह एक सप्ताह से पहले ही नेगेटिव हुए हैं जिनमें भारी लक्षण वाले मरीज भी शामिल थे।

पूछे जाने पर डा. रोहताश नांगिया ने कहा कि उनके पास स्वैच्छा से आने वालों का वह निःशुल्क उपचार कर रहे हैं। जिला सिरमौर के तो हर इलाके से लोग उनके पास पहुंच रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने भी उनके कार्य पर संज्ञान लिया है और वह बहुत जल्दी सरकार को अपनी प्रेजेंटेशन प्रस्तुत करेंगे। उधर, इस बारे में ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने कहा कि वह इस बारे फिर से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से बात करेंगे। हम चाहते हैं कि लोगों को इनकी सेवा का लाभ मिले।

The post पांवटा साहिब में कोरोना मरीजों को होम्योपैथी पर भरोसा appeared first on Divya Himachal.