Sunday, August 09, 2020 01:43 PM

फसल बीमा योजना ने दूर की किसानों की चिंता

खरीफ  सीजन में जिला के 19366 किसानों को मिला 2.56 करोड़ मुआवजा

हमीरपुर-सूखा हो या भारी बारिश, आंधी-तूफान हो या कोई अन्य प्राकृतिक आपदा। किसानों-बागबानों को अकसर इन आपदाओं से फसलों के नुकसान की चिंता रहती है। प्राकृतिक आपदा के कारण कई बार उनके खून-पसीने की कमाई पल भर में चौपट हो जाती है और उन्हें भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। लेकिन अब प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ने किसानों की यह चिंता दूर कर दी है। इस योजना के माध्यम से किसान बहुत ही कम प्रीमियम देकर अपनी फसलों का बीमा करवा सकते हैं और फसलों को किसी भी तरह का नुकसान होने पर अच्छा-खासा मुआवजा पा सकते हैं। हमीरपुर जिला में भी हजारों किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ उठा रहे हैं। कृषि विभाग के उपनिदेशक जीत सिंह ठाकुर ने बताया कि पिछले खरीफ सीजन में जिला के करीब 21537 किसानों ने फसलों का बीमा करवाया था। इनमें से 19366 किसानों को लगभग दो करोड़ 56 लाख रुपए का मुआवजा दिया गया। इसी प्रकार रबी सीजन में भी जिला के करीब 21269 किसानों को बीमा योजना में कवर किया गया है, जिनके मुआवजे की प्रक्रिया अभी जारी है। कृषि उपनिदेशक ने बताया कि इस खरीफ  सीजन 2020-21 में भी जिला में मक्की और धान की फसलों का बीमा किया जा रहा है। जिला की सभी तहसीलों के किसान मक्की का बीमा करवा सकते हैं, जबकि धान के बीमा के लिए जिला की तीन तहसीलें हमीरपुर, नादौन और भोरंज ही अधिसूचित की गई हैं। बीमा करवाने के लिए अंतिम तिथि 15 जुलाई निर्धारित की गई है। दोनों फसलों के लिए 600 रुपए प्रति हेक्टेयर यानि 24 रुपए प्रति कनाल प्रीमियम निर्धारित किया गया है। इसकी बीमित राशि 30 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर होगी। जीत सिंह ठाकुर ने बताया कि जिला में फसलों के बीमा के लिए एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ  इंडिया अधिसूचित की गई है। योजना से संबंधित जानकारी के लिए किसान कृषि विभाग के कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं। विभाग की वेबसाइट एचपी एग्रीकल्चर डॉट कॉम पर भी इस योजना की विस्तृत जानकारी उपलब्ध करवाई गई है। किसान बीमा कंपनी के टॉल फ्री नंबर 1800116515 या क्षेत्रीय प्रबंधक अजय कुमार के मोबाइल नंबर 8219765301 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

 

The post फसल बीमा योजना ने दूर की किसानों की चिंता appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.