Tuesday, December 07, 2021 06:06 AM

पांवटा साहिब में चार दिन से आमरण अनशन पर बैठे गोसेवक को पुलिस ने जबरन उठाया

नाहन, पांवटा साहिब। पिछले चार दिन से गोसंरक्षण को लेकर अनशन पर बैठे गोभक्त सचिन ओबरॉय को शुक्रवार सुबह पुलिस ने जबरन उठाकर अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने तहसीलदार वेद प्रकाश अग्निहोत्री के नेतृत्व में कार्रवाई को अंजाम दिया सचिन अस्पताल जाने का विरोध कर रहे थे। बता दें कि गौ भक्त सचिन ओबरॉय लंबे समय से सड़कों पर बेसहारा घूम रहे गोवंश के लिए संरक्षण के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

करीब तीन सप्ताह पहले उन्होंने एक दिन का संकेतिक अनशन किया था और प्रशासन और सरकार को चेतावनी दी थी कि यदि सरकार ने इस क्षेत्र में अहम कदम ना उठाए तो वह आमरण अनशन पर चले जाएंगे, लेकिन सरकार ने उनकी एक न सुनी, जिस पर वह चार दिन पहले आमरण अनशन पर चले गए। इस दौरान ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी और एसडीएम पांवटा साहिब विवेक महाजन ने भी उनसे मुलाकात की और उनसे अनशन छोडऩे का आह्वान किया।

उन्होंने जल्दी सचिन की मांगों को पूरा करने का आश्वासन भी दिया, लेकिन सचिन ओबरॉय ने मामले में त्वरित कार्रवाई करने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस मामले में कार्रवाई के बाद ही वे अपना अनशन छोड़ेंगे। इस पर पुलिस ने तहसीलदार वेद प्रकाश अग्निहोत्री के नेतृत्व में उन्हें जबरन उठाकर अस्पताल भेज दिया। सचिन इस दौरान लगातार इसका विरोध कर रहे थे।