Friday, February 26, 2021 03:59 AM

शिमला में पुलिस ने गाड़ी से उतरवाया किसान आंदोलन का झंडा, क्यों, जानें यहां

ऊना — तीसरे चरण के मतदान में उपमंडल ऊना की ग्राम पंचायत कोटला कलां में बीडीसी के बैलेट पेपर में खामी उजागर होने का मामला सामने आया है। बैलेट पेेपर में खामी सामने आने पर पोलिंग बूथ पर हंगामा खड़ा हो गया, तो वोटिंग करवाने के लिए मौजूद अधिकारियों ने इसे क्लेरिकल मिस्टेक बताते हुए पल्ला झाड़ लिया। हैरानी तो इस बात की है कि इस वार्ड पर 40 वोटे पोल भी हो चुकी थी। बीडीसी के उक्त बैलेट पेपर पर प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह के सामने लिखे नाम में गड़बड़ी थी। जिसे बाद में पोलिंग बूथ पर मौजूद अधिकारियों ने आपसी सहमति से सुलझा लिया।

बिलासपुर — कोविड-19 के कारण लंबे समय से बंद स्कूलों में अब फिर से रौनक लौट आएगी। सरकार के आदेशों के मुताबिक पहली फरवरी से पांचवीं कक्षा सहित आठवीं से 12वीं कक्षा तक के छात्र स्कूलों में आकर पढ़ाई करेंगे। स्कूल अध्यापक 27 जनवरी से ही स्कूल ज्वाइन कर लेंगे, ताकि स्कूलों में कोविड-19 को लेकर जारी एसओपी की अनुपालना सुनिश्चित की जा सके। इसके लिए सभी स्कूल प्रधानाचार्यों को माइक्रो प्लॉन बनाने के आदेश जारी किए गए हैं।

सभी प्रधानाचार्यों को पहली फरवरी से पहले इसकी रिपोर्ट भेजनी होगी। इसी के लिए स्कूल अध्यापकों को 27 जनवरी से स्कूलों में आने के लिए कहा गया है। जिला बिलासपुर में 110 सीनियर सेकेंडरी व 53 हाई स्कूल हैं। बिलासपुर उपनिदेशक उच्च शिक्षा राजकुमार शर्मा ने बताया कि सभी स्कूल प्रधानाचार्यों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

शिमला — राजधानी शिमला में काफी संख्या से बाहरी राज्यों से लोग पहुंच रहे हंै। ऐसे में कई लोग अपने वाहनों में किसान आंदोलन के समर्थन में झंडे लगा कर आ रहे हैं। शिमला के मुख्य प्वाइंट विक्ट्री टनल के पास भी सुबह करीब साढ़े दस बजे एक वाहन को पुलिस ने रोक लिया। वाहन में किसान आंदोलन का झंडा लगा हुआ था। यहां पर तैनात ट्रैफिक पुलिस के जवानों ने गाड़ी को रोक कर पहले झंडा उतरवाया और उसके बाद चालक को समझा कर भेजा। इससे पहले शिमला के रिज मैदान पर पुलिस ने तीन किसानों को पकड़ा था, जो यंहा पर समर्थन मांगने आए थे।