Sunday, July 25, 2021 07:51 AM

वीरभद्र के स्वास्थ्य को लेकर अफवाहें फैलाने वालों को पुलिस की चेतावनी, विक्रमादित्य ने भी की यह अपील

शिमला। पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के स्वास्थ्य से संदर्भ में झूठी अफवाहें फैलाने वालों को पुलिस ने कड़ा शब्दों में चेतावनी दी है। डीजीपी ऑफिस शिमला से जारी एक बयान के अनुसार पुलिस ने ऐसे तत्त्वों को सचेत किया है कि इस तरह के कृत्यों को तत्काल बंद किया जाए और यदि फिर भी इस तरह की झूठी अफवाहों को फैलाना बंद नहीं किया गया तो दोषी व्यक्ति के खिलाफ तत्काल सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस का कहना है कि सोलन से संबंधित कुछ शरारती तत्त्वों द्वारा पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के स्वास्थ्य के संदर्भ में झूठी अफवाहें फैलाई जा रही हैं, जिस कारण पूरे राज्य में सनसनीपूर्ण स्थिति उत्पन्न हो रही है तथा पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के शुभचिंतकों द्वारा पुलिस और अन्य सरकारी कार्यालयों में उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ के लिए लगातार फोन किए जा रहे हैं।

इस तरह की अफवाहें राज्य में शांतिपूर्ण माहौल में अशांति फैलाने का काम करती हैं। इसके साथ ही इस तरह की झूठी अफवाहों का फैलाना आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के प्रावधानों का घोर उल्लंघन है। बता दें कि पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह आईजीएमसी शिमला में दाखिल हैं और दूसरी बार कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह को कोविड पॉजिटिव होने पर आगामी इलाज के लिए कोविड व्यवस्था में शिफ्ट किया गया है। आईजीएमसी प्रशासन के अनुसार वह स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।

विक्रमादित्य बोले, वीरभद्र सिंह स्वस्थ, अफवाहों पर ना जाएं

विशेष संवाददाता, शिमला

विधायक विक्रमादित्य सिंह ने सोशल मीडिया में उनके पिता पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के स्वास्थ्य बारे कुछ निराधार अफवाहों को पूरी तरह खारिज करते हुए कहा है कि वीरभद्र सिंह डॉक्टरों की निगरानी में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि मां भीमाकाली के आशीर्वाद और प्रदेश के लोगों के स्नेह और शुभचिंतकों की शुभकामनाओं से उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है।

विक्रमादित्य सिंह ने उनके पिता वीरभद्र सिंह के प्रति स्नेह और चिंता करने पर आभार व्यक्त करते हुए लोगों से उनके प्रति किसी भी निराधार अफवाह पर ध्यान नहीं देने का आग्रह किया है। उन्होंने सोशल मीडिया में ऐसी किसी भी अफवाह को आगे न फैलाने का आग्रह भी लोगों से किया है।

बता दें कि वीरभद्र सिंह लंबे समय से बीमार चल रहे हैं और आईजीएमसी में भर्ती हैं। पहले वह कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती थे जिन्हें अब कोविड वार्ड में लाया गया है। उनमें दूसरी बार कोरोना का संक्रमण पाया गया है जिसके बाद विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम उनपर पूरी निगरानी रखे हुए हैंं। उनकी हालत स्थिर बताई जाती है। सोशल मीडिया पर कुछ अफवाहें फैलने के बाद प्रदेश में उनके समर्थकों की चिंता बढ़ गई थी जिन्होंने वीरभद्र सिंह की हालत को जानने के लिए खासा प्रयास किया।

ऐसे में विक्रमादित्य सिंह सामने आए हैं जिन्होंने समर्थकों को चिंता नहीं करने को कहा है। गत रात्रि भी वीरभद्र सिंह के ट्विटर हैंडल से उनके माध्यम से उनके स्वस्थ होने की सूचना को प्रेषित किया गया था। बताया जाता है कि वीरभद्र सिंह की धर्मपत्नी प्रतिभा सिंह भी कोरोना से पीडि़त हैं और पूरी स्थिति जानने के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी उनकी कुशलता की कामना की है।