Friday, September 25, 2020 03:23 AM

प्रांत गोरक्षा प्रमुख ने जांची सुशीला गोशाला

कहा, प्रदेश में गो सेंक्चुरी बनाने से लावारिस पशुओं को मिलेगा सहारा

बरठीं-विकास खंड झंडूता की ग्राम पंचायत बल्हसीणा स्थित सुशीला गौशाला का प्रांत गौरक्षा प्रमुख मंगठ ठाकुर ने निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि लावारिस गोधन की सुरक्षा एवं किसानों की फसलों की रक्षा के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयास सराहनीय है। सरकार के प्रयासों से प्रदेश में बन रहे गोसेंक्चुरी काबिलेतारीफ  हैं। इनमें हजारों की संख्या में सड़कों पर घूम रहे गोवंश को आश्रय मिलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने जो लावारिस घूम रहे हैं गोधन की रक्षा करने लिए गोधन पालने वाले किसानों, गोशालाओं को 500-500 रुपए प्रति गाय देने की जो घोषणा की है, उसको अमलीजामा पहनाया जाए, ताकि जिला भर की गोशालाओं को सरकार की इस योजना का लाभ मिल सके।  उन्होंने कहा कि सरकार की इस पहल से ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले किसान भी गाय पालना शुरू करेंगे और गाय लावारिस होने से भी बचेगी। प्रशासन द्वारा बरोटा व धारटटोह में बनाए जा रहे गो अभ्यारण्य से भी सैकड़ों लावारिस गोवंश को आश्रय मिलेगा। उन्हेंने कहा कि जिले की अन्य 12 गोशालाओं की भी सरकार को सुध लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बताया कि अकेले सुशीला गोशाला बल्हसीणा में करीब अढ़ाई सौ गोवंश हैं, जिसकी कमेटी सहित स्थानीय ग्रामीणों द्वारा सेवा की जा रही है। उन्होंने कहा कि धारटटोह व बरोटा की तर्ज पर अन्य गोशालाओं की स्थिति भी सुधारी जाए, ताकि गोवंश का रहन-सहन व खाना -पीना सही प्रकार से हो सकें।  उन्होंने सरकार से मांग की है कि जो सरकार ने गोशालाओं की दशा सुधारने के लिए वादे किए थे, उनको तुरंत लागू किया जाए, ताकि गोशालाओं को आदर्श गोशालाएं बनाया जा सकें। इस मौके पर विजय कौशल, अमरनाथ धीमान, रामपाल व सुखदेव मिन्हास सहित अन्य उपस्थित रहे।

The post प्रांत गोरक्षा प्रमुख ने जांची सुशीला गोशाला appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.