Sunday, October 25, 2020 02:36 AM

प्रधानमंत्री मोदी के वेलकम को अटल टनल तैयार

बीआरओ ने सुरक्षा की दृष्टि से टनल परिसर को किया पूरी तरह सील, हर आने व जाने वाले पर नजर

मनाली-अटल टनल के उद्घाटन के लिए तीन अक्तूबर को प्रस्तावित प्रधानमंत्री के मनाली व लाहुल दौरे को लेकर प्रशासन ने जहां कसरत शुरू कर दी है, वहीं सुरक्षा व्यवस्था को भी कड़ा कर दिया गया है। अटल टनल परिसर को पूरी तरह सील कर दिया गया है। परियोजना प्रबंधन ने सुरक्षा का हवाला देते हुए अब टनल के उद्घाटन तक किसी को भी टनल में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी है, जबकि केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने भी अटल टनल परिसर के साथ-साथ मनाली व लाहुल में मोर्चा संभाल लिया है।

करीब 3200 करोड़ रुपए की लागत से तैयार की गई अटल टनल जहां लाहुल-स्पीति के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, वहीं मनाली-लेह की दूरी भी टनल के बनने के बाद 46 किलो मीटर कम हो जाएगी। टनल का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है अब बीआरओ को सिफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंतजार है। बीआरओ के अधिकारियों का कहना  है कि अटल टनल में लगाए गऐ सभी आधुनिक उपकरणों की जांच व ट्रायल सफलता पूर्वक पूरा कर लिया गया है।  टनल को अब पूरी तरह सील कर दिया गया है। बीआरओ के अधिकारियों व कामगारों के अलावा टनल परिसर में किसी को भी आने व जाने की अनुमति टनल के उद्घाटन तक नहीं दी जाएगी। लिहाजा केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने भी उद्घाटन स्थल के साथ-साथ सोलंगनाला में आयोजित होने वाले प्रधानमंत्री के अभिनंदन सामारोह स्थल पर नजर रखी है। ऐसे में मनाली  से लेकर लाहुल तक विशेष सुरक्षा व्यवस्था बनाई गई है। जिला में वीवीआईपी मूवमेंट को ध्यान में रखते हुए जहां अधिकारियों की छुट्टियां तक रदद कर दी गई है, वहीं उपायुक्त कुल्लू ने अधिकारियों को यह निर्देश जारी किए हैं कि तीन अक्तूबर तक कोई भी अधिकारी अपने कार्य क्षेत्र से दूर नहीं जा सकेंगे। दस हजार फीट की ऊंचाई पर बनाई गई नौ किलो मीटर लंबी अटल टनल दुनिया की पहली दो मंजिला ट्रैफिक टनल है, जो तीन अक्तुबर को देश को समर्पित कर दी जाएगी। लाहुल-स्पीति के जिला मुख्यालय केलांग में जहां पहले ही सुरक्षा व्यवस्था को कड़ा कर दिया गया है, वहीं मनाली में भी पुलिस जवानों के साथ-साथ सेना के जवानों को तैनात किया गया है, वहीं भाजपा के कई दिग्गज नेताओं को इस दौरान पीएमओ कार्यालय से निमंत्रण भेजा गया है।

ऐसे में कुल्लू व लाहुल प्रशासन ने वीवीआईपी मूवमेंट को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारियों को जहां अंतिम रूप देना शुरू कर दिया गया है, वहीं मनाली-लेह मार्ग पर भी सुरक्षा व्यवस्था को कड़ा कर दिया गया है। पुलिस अधिकारियों के अलावा सेना के जवान यहां पर तैनात कर दिए गए हैं। सोलंगनाला में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आयोजित होने वाले अभिनंदन समारोह की तैयारियां युद्ध स्तर पर चल रही है, जबकि सिस्सू में भी पीएम के वेलकम की तैयारियां प्रशासन ने की है।

The post प्रधानमंत्री मोदी के वेलकम को अटल टनल तैयार appeared first on Divya Himachal.