Wednesday, August 05, 2020 07:04 PM

रे में खेत सूखे धान पर संकट

शाहनहर की पाइपों में लीकेज से किसानों को नहीं मिल रहा पानी, दिक्कतें बढ़ीं

रे-हिमाचल प्रदेश की सबसे बड़ी शाहनहर परियोजना ने यूं तो हिमाचल के सीमांत क्षेत्र में पूर्ण रूप से हरित क्रांति ला दी है, परंतु उपमंडल फतेहपुर के क्षेत्र रे शाहनहर में पानी न आने से 40 कनाल में  किसानों द्वारा रोपी गई धान की फसल पर संकट के बादल मंडराना शुरू हो गए हैं। स्थानीय किसानों में इंद्रजीत गोगा, हैदरअली , मोहम्मद रफीक, रामपाल, विधि चंद व वेली राम आदि ने बताया कि शाहनहर विभाग को धान की फसल की सिंचाई के लिए बार-बार डिमांड दे रहे हैं, परंतु शाहनहर का पानी हमारे खेतों तक नहीं पहुंच रहा है। किसानों ने रोष जताया है कि रे से लगभग 30 किलोमीटर आगे भी शाहनहर का पानी जाता हैं, परंतु रे के किसानों को पानी नहीं मिल रहा । किसानों ने विभाग के समक्ष मांग रखी है कि पहले रे के किसानों को पानी पूरा करवाया जाए । उसके बाद आगे भेजा जाए। प्राप्त जानकारी के अनुसार शाहनहर विभाग के द्वारा किसानों के खेतों में पाइपें डाली हैं,  उनकी लीकेज के कारण हमारे खेतों तक पानी नहीं पहुंच रहा हैं ।  किसानों ने कहा कि अगर समय पर धान की फसल को पानी न मिला तो किसानों को भारी नुकसान हो सकता है। किसानों ने सरकार व शाहनहर विभाग से जल्द पानी उपलब्ध करवाने की मांग उठाई है।

The post रे में खेत सूखे धान पर संकट appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.