Friday, August 14, 2020 05:16 AM

रेड जोन से आने पर होगे संस्थागत क्वारंटाइन

चंबा में उपायुक्त विवेक भाटिया ने किए लोग जागरूक

चंबा – उपायुक्त विवेक भाटिया ने कहा कि सरकार ने आर्थिकी और रोजगार के मद्देनजर अनलॉक घोषित किया है, लेकिन इसके यह मायने नहीं कि कोविड-19 को लेकर बरती जाने वाली एहतियातों को दरकिनार कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि जहां आर्थिकी और रोजगार से जुड़ी गतिविधियों को जारी रखना आवश्यक है वहीं लोग कोरोना वायरस संक्रमण की गंभीरता को समझते हुए अपने परिवार और समाज के प्रति अपना दायित्व समझते हुए एहतियातों का भी पालन करें। वह शनिवार को बचत भवन परिसर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उपायुक्त ने यह भी बताया कि कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर घोषित कंटेनमेंट जोन में प्रतिबंध पहले की तरह ही लागू रहेंगे। जिला में पर्यटन गतिविधियों को दोबारा शुरू करने और धार्मिक स्थलों को खोले जाने के मुद्दे पर उपायुक्त ने बताया कि इसको लेकर राज्य स्तर पर संबंधित विभाग इसकी मानक संचालन प्रक्रियाय एसओपी तैयार कर रहे हैं और चंबा जिला में भी उन्हीं के मुताबिक इन दोनों क्षेत्रों के लिए अनुमति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिले में स्थापित क्वारंटाइन व्यवस्था पहले की भांति कार्यशील रहेगी। किसी भी रेड जोन से आने वाले व्यक्ति को संस्थागत क्वारंटाइन होना पड़ेगा। केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक सेना और अर्धसैनिक बलों के जवान अपना पहचान पत्र दिखाकर अपने घर जा सकते हैं। उपायुक्त ने यह भी बताया कि बागवानी और कृषि कार्यों के लिए आने वाले कामगारों का पंजीकरण भी आवश्यक रहेगा। चंबा के पारंपरिक व ऐतिहासिक मिंजर मेले के आयोजन को लेकर पूछे गए सवाल पर उपायुक्त ने बताया कि इस मेले को एहतियातों के साथ रस्मी तौर पर इसके शुभारंभ और समापन को लेकर 8 जुलाई को बैठक का आयोजन किया जाएगा ताकि इसकी रूपरेखा पर अंतिम निर्णय लिया जा सके।

The post रेड जोन से आने पर होगे संस्थागत क्वारंटाइन appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.