Thursday, October 01, 2020 02:06 PM

रेहड़ी-फड़ी वालों को बसाना हुआ मुश्किल

रामपुर बुशहर – नगर परिषद् के लिए रेहड़ी फड़ी वालों को स्थायी छत देना गले की फांस बन गया है। नगर परिषद ने जहां पर इस मर्तबा रेहड़ी-फड़ी वालों को बसाने के लिए योजना बनाई थी वह धरी की धरी रह गई। नगर परिषद शनि मंदिर के समीप रेहड़ी-फड़ी वालों को बिठाने की कोशिश में है। लेकिन वहां पर किसी व्यक्ति की निजी जमीन निकल गई। अब वह व्यक्ति यहां पर रेहड़ी-फड़ी वालों के लिए लगाई जाने वाल छत का विरोध कर रहा है। ऐसे में फिर से नगर परिषद की मुहिम पर पानी फिर गया है। अब बड़ा सवाल ये है कि आखिर इन रेहड़ी-फड़ी वालों को कहां पर शिफ्ट किया जाए। अभी जहां पर ये बैठे है वह एनएच और बाजार का मुख्य रास्ता है। ऐसे में इन रेहड़ी -फड़ी वालों ने अवैध अतिक्रमण कर रखा है। जहां कुछ वर्षों पहले ये इक्का दुक्का थे वहीं आज इनकी संख्या दस से अधिक हो गई है। जिन्होंने नगर परिषद की पैदल सीढि़यों पर पूरी तरह से कब्जा जमा रखा है। नगर परिषद् जब भी इन रेहड़ी फड़ी वालों को यहां से खदेड़ती है। कुछ घंटों बाद फिर से ये वहीं पर बैठ जाते है। यानी नगर परिषद की इन्हें यहां से हटाने की हर तरह की मुहिम अभी तक खारिज होती नजर आ रही है। ऐसे में इन रेहड़ी वालों के हौंसले भी बुलंद है। कारण साफ है कि अभी तक इन्हें न तो कहीं पर बसाया गया है और न ही इन्हें मुख्य रास्ते से हटाया गया है। अब नगर परिषद की प्रस्तावित जगह पर भी बात नहीं बन पा रही है। अब नगर परिषद के पास डीएवी स्कूल के समीप नगर परिषद की खाली पड़ी जमीन में इन्हें शिफ्ट करने के सिवाय और कोई रास्ता शेष नहीं रह गया है। इसके अलावा नगर परिषद के पास मुख्य रामपुर में ओर कोई जगह भी शेष नहीं है। अब जब नगर परिषद के चुनाव आने वाले है तो ये मुद्दा भी काफी गर्माने वाला है कि आखिर इन रेहड़ी फड़ी वालों का अतिक्रमण क्यों नहीं हट पाया।

The post रेहड़ी-फड़ी वालों को बसाना हुआ मुश्किल appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.