Monday, October 18, 2021 04:35 PM

कान बंद होने की समस्या से राहत

व्यक्ति का कान तब बंद होता है जब कान में कोई संक्रमण हो जाता है। किसी एलर्जी के चलते, सूजन के चलते, जलन के चलते या साइनस के कारण कान बंद होने की समस्या नजर आ सकती है। ऐसे में इसके लक्षणों को पहचान कर इसका समय रहते इलाज करना भी जरूरी होता है...

कान हमारे शरीर के महत्त्वपूर्ण अंगों में से एक है। इसके द्वारा ही हम बेहतर तरीके से सुन सकते हैं। इसलिए कान का स्वस्थ रहना हमारे लिए जरूरी होता है। लेकिन कभी-कभी कान में अधिक गंदगी के कारण या कान के पर्दे के क्षतिग्रस्त होने के कारण कान बंद होने की समस्या सामने आती है। व्यक्ति का कान तब बंद होता है जब कान में कोई संक्रमण हो जाता है। किसी एलर्जी के चलते, सूजन के चलते, जलन के चलते या साइनस के कारण कान बंद होने की समस्या नजर आ सकती है। ऐसे में इसके लक्षणों को पहचान कर इसका समय रहते इलाज करना भी जरूरी होता है। कान में थोड़ी सी भी तकलीफ  होने पर हमें डाक्टर की सलाह लेनी चाहिए। इन समस्याओं से बचने के लिए हमें कानों की साफ सफाई का भी ध्यान रखना चाहिए। आइए जानते हैं कान बंद की समस्या को दूर करने के लिए घरेलू उपाय, जिससे आपको इस समस्या से राहत मिल सकती है।

टी-ट्री ऑयल

कान बंद की समस्या को दूर करने के लिए आप टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। कान बंद की परेशानी को दूर करने के लिए गर्म पानी लें, इसमें टी-ट्री ऑयल की कुछ बूंदंे मिलाएं। अब इसके भाप को अपने कानों के अंदर आने दें। इससे कान बंद की परेशानी से निजात मिलेगी।

नीलगिरी का तेल

नीलगिरी के तेल का इस्तेमाल करने से भी कान बंद की परेशानी से राहत पाई जा सकती है। इसके लिए एक बरतन में गर्म पानी लें। अब इसमें नीलगिरी तेल की 2 से 3 बूंदें डालें। इसके बाद इस पानी से आ रही भाप को अपने कानों के अंदर आने दें। इससे ईयर ब्लॉकेज की वजह से कान में होने वाली खुजली से आराम मिलेगा। इस तेल से दिन में कम से कम 3 से 4 बार भाप लें।

लैवेंडर ऑयल

कान बंद की परेशानियों को दूर करने के लिए लैवेंडर ऑयल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए गर्म पानी लें। इसमें लैवेंडर ऑयल की कुछ बूंदे डालें। अब इसके भाप को अपने कान के पास लाएं। ऐसा करने से आपको काफी आराम मिलेगा। यह कान में जमा गंदगी को बाहर निकालने में आपकी मदद करता है। जिसे आप कॉटन की मदद से कान से हटा सकते हैं।

जैतून का तेल

कान बंद की परेशानियों जैसे खुजली और दर्द से राहत पाने के लिए आप जैतून के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए जैतून का तेल लें। अब इसे हल्का सा गर्म करें। जब तेल ठंडा हो जाए, तो इसे अपने कान में डालें। ऑलिव ऑयल को कान में डालने से कान दर्द की परेशानी से राहत पाई जा सकती है। साथ ही यह आपके कान से गंदगी को बाहर करने में असरदार होता है।

सरसों के तेल का इस्तेमाल

हमारी दादी-नानी काफी लंबे अरसे से गर्म सरसों के तेल को अपने कानों में डालती आ रही हैं। गर्म सरसों तेल कान में होने वाली परेशानियों को दूर करने में असरकारी होता है। इस तेल का इस्तेमाल करने के लिए सरसों तेल को हल्का सा गुनगुना करें। अब इस तेल को ठंडा करें और रात को सोने से पहले अपने कान में डालें। इसके बाद सुबह उठकर ऊपर आए मोम को ईयर बड की मदद से हटाएं।

लहसुन का करें इस्तेमाल

कान बंद की परेशानी को दूर करने के लिए लहसुन का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। इसके लिए लहसुन की 2 से 3 कलियों को पीस लें। अब इसे सरसों के तेल में डुबोकर गर्म करें। बाद में इस तेल को छानकर ठंडा करें। जब तेल ठंडा हो जाए, तो इसे अपने कान में डालें। इससे ईयर के अंदर जमा सारी गंदगी बाहर आ सकती है और कान में होने वाले दर्द से भी राहत मिलती है।