Friday, September 24, 2021 05:16 AM

अवैध कब्जों की रपट पेश करें

चंबा में अतिक्रमण को लेकर डीसी ने नगर परिषद और एसडीएम को दिए निर्देश, सड़क अधोसंरचना पर की चर्चा

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-चंबा उपायुक्त डीसी राणा ने कहा है कि जिला मुख्यालय में लोक निर्माण विभाग व नगर परिषद के दायरे में आने वाले सड़क अधोसंरचना के उन्नयन के लिए सभी संबंधित विभागीय अधिकारी व हितधारक मास्टर प्लान में अपने विभाग से संबंधित कार्यों को भी शामिल करें। उन्होंने एसडीएम सदर व नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी को निर्देश दिए कि नगर परिषद के दायरे में आने वाली सड़कों, नालियों सहित विभिन्न स्थानों पर निशानदेही करवाकर अतिक्रमण व अवैध कब्जों की विस्तृत जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करें। वह गुरुवार को शहरी सड़क अधोसंरचना सुधार योजना की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि नगर परिषद के अधीन आने वाले 13 किलोमीटर व लोक निर्माण विभाग के कार्य क्षेत्र में लगभग 17 किलोमीटर सड़कों का उन्नयन कार्ययोजना में शामिल किया गया। इसमें तमाम मूलभूत आधुनिक सुविधाएं जुटाई जाएंगी। उन्होंने इस प्रस्तावित कार्ययोजना में पक्काटाला व कसाकड़ा मोहल्ले की मुख्य मार्ग से कार्य आरंभ करने को प्राथमिकता के आधार पर शामिल करने की भी बात कही। इसके साथ-साथ शहर में आईटीआई जनसाली मोहल्ले से सड़क मार्ग बनाने की संभावना तलाशने के लिए भी निर्देश दिए।

उपायुक्त ने यह भी कहा कि इस प्रस्तावित कार्ययोजना में न्यू बस स्टैंड में मल्टीस्टोरी कांपलेक्स व वाहन पार्किंग को भी शामिल किया जाएगा। बस स्टैंड से चौगान के लिए एलिवेटर लिफ्ट की व्यवस्था को भी शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि पुराने बस स्टैंड में पार्किंग व्यवस्था के साथ-साथ शापिंग कांपलेक्स के निर्माण, शहर के सौंदर्यीकरण, फुटपाथ, पुराना बालू ब्रिज, सरोथा नाला, जीरो प्वाइंट व खजियार चौक के पास पार्किंग स्थलों का निर्माण कार्य को भी शामिल किया गया है। भूरी सिंह पावर हाउस से बालू रावी नदी संगम स्थल तक साल नदी का चैनेलाइजेशन, चंबा के प्रवेश द्वार, चामुंडा माता प्रवेश स्थल, मंजरी गार्डन में साहसिक खेलों के लिए सुविधाएं जुटाना, मंजरी गार्डन से दयानंद मठ शनि देव मंदिर सड़क मार्ग को वाय पास मार्ग बनाने को भी इस कार्य योजना में शामिल कर डीपीआर जल्द तैयार किया जाए। बैठक में नगर परिषद अध्यक्ष नीलम नैयर, उपाध्यक्ष सीमा कश्यप व पीडब्ल्यूडी चंबा मंडल के एक्सईन जीत सिंह ठाकुर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।