Tuesday, April 13, 2021 10:58 AM

पालमपुर में प्रतिष्ठा का सवाल

कांग्रेस ने लिए आवेदन, भाजपा सर्वे को बनाएगी आधार

जयदीप रिहान—पालमपुर

नवगठित पालमपुर नगर निगम में चुनावी बिसात बिछ गई है। चुनाव पार्टी चिन्ह पर करवाए जाने की तैयारी है। ऐसे में दोनों प्रमुख दल कांग्रेस और भाजपा के लिए पहले चुनाव में बड़ी जीत निश्चित करना प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है। पालमपुर नगर परिषद में ज्यादातर कांग्रेस का ही वर्चस्व रहा है और नगर निगम के चुनावों में भी कांग्रेस अपना यह रिकार्ड बरकरार रखना चाहेगी। भाजपा सरकार ने करीब दो दशकों से चली आ रही लोगों की नगर निगम की मांग पूरी की है, ऐसे में भाजपा इस मुद्दे को भुनाने की तैयारी में है। दोनों दलों ने उम्मीदवारों के चयन के लिए आला नेताओं की टीमें तैयार कर दी हैं और टिकट के आबंटन के लिए कांग्रेस और भाजपा अलग-अलग प्रक्रिया अपना रही है। कांग्रेस ने बाकायदा चुनाव लड़ने के इच्छुक लोगों ने आवेदन मांगे और करीब छह दर्जन दावेदार सामने आए हैं।

 इन सभी दावेदारों से कांग्रेस के आला नेताओं ने बात भी की है और जल्द ही पार्टी उम्मीदवारों के नाम सामने आने की संभावना है। भाजपा ने प्रत्याशियों के चयन के लिए सर्वे को आधार बनाया है। जीताऊ उम्मीदवार की तलाश में भाजपा अब तक दो सर्वे करवा चुकी है और तीसरे सर्वे के बाद नाम फाइनल किए जाने की उम्मीद है। ऐसे में अब दोनों दलों के दावेदारों की नजरें टिकट आबंटन को तैनात टीमों पर टिक गई हैं। यह देखना भी रोचक होगा कि पार्टी टिकट न मिलने पर अन्य दावेदार क्या रुख अपनाते हैं। दोनों दलों में करीब-करीब हर वार्ड में टिकट के चाहवानों की संख्या दो से अधिक है। आरक्षण के चलते कुछ लोग साथ लगते वार्डों से भी उतरने की तैयारी कर रहे हैं।