Sunday, November 29, 2020 03:23 PM

रूस की पेशकश उत्साहवर्द्धक

रूस ने भारत को विशेष प्रकार के हल्के वजन वाले टैंक की पेशकश की है। यदि यह सौदा सफल हो जाता है तो हमारी पैदल सेना की शक्ति दोगुनी हो जाएगी। हमें इस प्रकार के टैंकों की आवश्यकता है क्योंकि वर्तमान में हम जिन टैंकों का उपयोग कर रहे हैं, वे वजन में बहुत भारी हैं और शायद वे लद्दाख जैसे इलाकों के लिए एक अच्छा विकल्प नहीं होंगे। उन्हें गति में समस्याओं का सामना करना पड़ता है। रूस के विशेष टैंक गति में अतुलनीय हैं।

 यह बर्फ से ढके पहाड़ों पर चढ़ सकता है और रेगिस्तान में भी दौड़ सकता है। भारत दिन-प्रतिदिन सेना की ताकत बढ़ा रहा है। यह हमारा नारा है कि देश पहले है। आज के परिदृश्य में हम अपने पड़ोसियों विशेष रूप से पाकिस्तान और चीन पर भरोसा नहीं कर सकते। आज हम जिन खतरों का सामना कर रहे हैं, वे गंभीर हैं और हमें अपनी संप्रभुता को सुरक्षित रखने के लिए तैयार रहना होगा। भारत को सैन्य दृष्टि से मजबूत बनाना आज अपरिहार्य लगता है।

The post रूस की पेशकश उत्साहवर्द्धक appeared first on Divya Himachal.