Saturday, October 24, 2020 11:05 PM

सात साल पहले किया था गुनाह, अब चढ़ा पुलिस ने हत्थे, क्या है मामला, जानने के लिए पढ़ें यह खबर

कार्यालय संवाददाता—बिलासपुर
पीओ सैल बिलासपुर ने शिमला जिला के रामपुर से उद्घोषित अपराधी पकड़ा है। उद्घोषित अपराधी पिछले करीब तीन साल से पुलिस को चकमा दे रहा था, लेकिन इस बार पीओ सैल बिलासपुर की टीम की नजरों से नहीं बच पाया। वहीं, पुलिस द्वारा आगामी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जानकारी के अनुसार वर्ष 2013 दगसेच मोड़ पर सड़क हादसा हुआ था। ट्रक और कार के बीच हुई इस भिड़ंत में दो लोगों को मामूली चोटें आई थीं।

वहीं, कार चालक के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज किया गया था। पुलिस ने कार चालक अमर सिंह पुत्र देवराज गांव खनेरी शिमला के खिलाफ मामला दर्ज किया था। कार चालक की लापरवाही के चलते यह हादसा हुआ माना गया था। पुलिस ने मामला दर्ज कर मामला न्यायालय में कार चालक के खिलाफ किया गया था। न्यायालय द्वारा बार-बार कार चालक को सम्मन, वारंट, नोटिस जारी किए गए। लेकिन दोषी पिछले साल एक भी पेशी पर हाजिर नहीं हुआ। जिसके चलते न्यायालय द्वारा वर्ष 2017 में उक्त व्यक्ति को उद्घोषित अपराधी घोषित कर दिया गया।

वहीं, इसके बाद दोषी चालक की तलाश का जि मा पीओ सैल बिलासपुर को सौंपा गया। कार चालक नेपाली मूल का व्यक्ति था और पिछले काफी अर्से से अपना स्थाई पता बदलकर अलग-अलग जगह पर रह रहा था। जिसकी तलाश पीओ सैल प्रभारी दौलत राम, राकेश कुमार व राजकुमार के साथ रामपुर, शिमला, सोलन व चंडीगढ़ इत्यादि में की। लेकिन यहां पर भी दोषी चकमा देते रहा। वहीं, बाद में अब पीओ सैल टीम द्वारा उक्त व्यक्ति के शिमला के रामपुर में होने की सूचना मिली और पीओ टीम ने दबोच लिया। वहीं, आगामी कार्रवाई के लिए थाना बरमाणा में पेश किया गया है। पुलिस आगामी कार्रवाई में जुटी हुई है।

The post सात साल पहले किया था गुनाह, अब चढ़ा पुलिस ने हत्थे, क्या है मामला, जानने के लिए पढ़ें यह खबर appeared first on Divya Himachal.