Saturday, January 23, 2021 03:23 AM

सम्मान बचाने उतरेगी विराट ब्रिगेड, आस्ट्रेलिया के खिलाफ अंतिम वनडे आज

कैनबरा के मानुका ओवल मैदान में

एजेंसियां— कैनबरा

विराट कोहली की टीम इंडिया आस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो वनडे में करारी पराजय झेलने के बाद अब बुधवार को कैनबरा के मानुका ओवल मैदान में होने वाले तीसरे और अंतिम वनडे में क्लीन स्वीप से बचने और अपना सम्मान बचाने के मजबूत इरादे से उतरेगी। भारत ने सीरीज के पहले दो वनडे सिडनी मैदान में खेले थे, जहां उसे क्रमशः 66 रन और 51 रन से बड़ी पराजय का सामना करना पड़ा था। इन पराजयों के बाद विराट की कप्तानी की कड़ी आलोचना हो रही है और अब तीसरे मुकाबले में विराट को न केवल अपनी टीम को क्लीन स्वीप से बचाना होगा, बल्कि अपना सम्मान भी बचाना होगा। भारत को यदि तीसरे वनडे में वापसी करनी है, तो उसके गेंदबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा। भारतीय गेंदबाजों ने पहले वनडे में 374 रन और दूसरे वनडे में 389 रन लुटाए थे। इस प्रदर्शन के बाद भारतीय गेंदबाज भी कड़ी आलोचना का सामना कर रहे हैं कि वह खुद को टी-20 प्रारूप से 50 ओवर के प्रारूप में नहीं ढाल पाए हैं, जबकि आस्ट्रेलिया के खिलाडि़यों ने यह काम बखूबी किया है।

भारत ने इस साल के शुरू में न्यूजीलैंड दौरे में तीन मैचों की सीरीज में 0-3 की क्लीन स्वीप झेली थी और उस सीरीज में भी उसके शीर्ष तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का प्रदर्शन निराशाजनक रहा था। मौजूदा समय में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में शुमार बुमराह को टीम इंडिया की वापसी कराने के लिए तीसरे मैच में बेहतर प्रदर्शन कर दिखाना होगा। आखिरी मुकाबले में विराट अंतिम एकादश में कुछ परिवर्तन करने का जोखिम उठा सकते हैं। मौजूदा समय में जो भी वनडे सीरीज खेली जा रही है, वह सभी 2023 के भारत के मेजबानी में होने वाले आईसीसी वनडे विश्वकप सुपर लीग का हिस्सा हैं, जिसमें हर मैच में जीत हासिल करने पर दस अंक मिलते हैं। मेजबान होने के कारण भारत का विश्वकप में स्थान सुरक्षित है। इसलिए वह आखिरी मैच में उन खिलाडि़यों को आजमा सकता है, जो अबतक सीरीज में नहीं खेले हैं। 17 दिसंबर से होने वाली चार टेस्टों की महत्त्वपूर्ण टेस्ट सीरीज को देखते हुए टीम प्रबंधन अपने दो प्रमुख तेज गेंदबाजों बुमराह और मोहम्मद शमी को आखिरी वनडे से विश्राम देकर उनकी जगह शार्दुल ठाकुर और बाएं हाथ के तेज गेंदबाज टी नटराजन को आजमा सकता है। इसी तरह स्पिन विभाग में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल की जगह चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को भी आजमाया जा सकता है। बल्लेबाजी में भी एक-दो परिवर्तन किए जा सकते हैं। सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को एकादश से बाहर कर उनकी जगह मनीष पांडे को लाया जा सकता है। इस सूरत में लोकेश राहुल ओपनिंग में जा सकते हैं और मनीष पांडे मध्यक्रम की भूमिका निभा सकते हैं। दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलियाई टीम की निगाहें भारत के खिलाफ क्लीन स्वीप दर्ज करने पर लगी होंगी। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले दो मैचों में हर विभाग में भारतीय टीम के मुकाबले ज्यादा बेहतर प्रदर्शन किया है। हालांकि तीसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया के पास सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर मौजूद नहीं होंगे।

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, शुभमन गिल, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, मयंक अग्रवाल, रविंद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, शार्दुल ठाकुर और टी नटराजन।

आस्ट्रेलिया: एरोन फिंच (कप्तान), डार्सी शॉर्ट, स्टीव स्मिथ, मार्नस लाबुशेन, ग्लेन मैक्सवेल, एलेक्स केरी, मिशेल स्टार्क, एडम जांपा, जोश हेजलवुड, सीन एबॉट, एश्टन एगर, कैमरन ग्रीन, मोइजेस हेनरिक्स, एंड्रयू टाय, डैनियल सैम्स और मैथ्यू वेड।

कैनबरा में भारत का रिकार्ड बेहद खराब

भारत ने कैनबरा के मानुका ओवल मैदान में दो मुकाबले खेले हैं और दोनों में ही उसे पराजय मिली है। वर्ष 2008 में त्रिकोणीय सीरीज के मुकाबले में भारत को श्रीलंका ने आठ विकेट से हराया था, जबकि 2016 में आस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को 25 रन से पराजित किया था। भारतीय टीम को कैनबरा में अपना रिकार्ड बेहतर करना होगा, तभी वह सीरीज का परिणाम 1-2 कर पाएगा।

The post सम्मान बचाने उतरेगी विराट ब्रिगेड, आस्ट्रेलिया के खिलाफ अंतिम वनडे आज appeared first on Divya Himachal.