Saturday, January 23, 2021 07:05 PM

सर्दियों में रात को कौन घूमने निकलेगा

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर सरकार के उस फैसले को पूरी तरह अव्यवहारिक बताया है, जिसमें चार जिलों शिमला, कांगड़ा, मंडी व कुल्लू में रात को कर्फ्यू लगाया गया है। यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे फैसले का कोई औचित्य ही नहीं है। सर्दी के मौसम में शायद ही कोई रात को आठ बजे के बाद घूमने निकलता होगा। उन्होंने कहा कि अगर किसी को रात को किसी मजबूरी से कहीं बाहर जाना होगा, तो उसे इस कर्फ्यू से मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने इस फैसले पर हैरानी जताते हुए कहा कि यह पूरी तरह गलत निर्णय है और कांग्रेस इसका विरोध करती है। श्री राठौर ने सरकार से जानना चाहा है कि वह बताएं कि क्या प्रदेश के अन्य जिले इस महामारी से अछूते हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार पूरी तरह संवेदनहीन हो गई है। सरकार को लोगों के दुःख दर्द की कोई परवाह नहीं है। अस्पतालों में अव्यवस्था के चलते मरीज परेशान हो गए हैं। प्रदेश सरकार के मंत्री तक ने कहा था कि कोरोना को लेकर अस्पतालों की व्यवस्था ठीक नहीं है। न तो मुख्यमंत्री ने ही और न ही स्वास्थ्य मंत्री ने इन अस्पतालों की कोई सुध आज दिन तक ली। बावजूद इसके मुख्यमंत्री अपनी पीठ थपथपाने में लगे रहे। उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में कोरोना को लेकर पूरे प्रोटोकॉल फोलो किए होते, तो भयानक स्थिति न होती। उन्होंने प्रदेश में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 550 से ऊपर पहुंच गया है, जो बहुत ही दुखदायी है। कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रदेश भाजपा में मचे सत्ता संघर्ष पर चुटकी लेते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भाजपा के आंतरिक कलह से परेशान हैं, जिस वजह से वह कोई सार्थक निर्णय लेने में असमर्थ हो गए हैं।

The post सर्दियों में रात को कौन घूमने निकलेगा appeared first on Divya Himachal.