Thursday, September 24, 2020 11:08 PM

सवारियों ने बसों में बैठने से किया किनारा

किराया बढ़ने के बाद बसों में नहीं बैठ रहे लोग, सवारियों को आकर्षित करने को डिस्काउंट दे रहे कंडक्टर

भुंतर – प्रदेश सरकार के किराया बढ़ोतरी के बाद बढ़े हुए किराए को लेने से परिचालक तक शर्माने लगे हैं। सरकार ने विपरीत हालात और आम जनता के विरोध के बावजूद किराया तो बढ़ाया है, लेकिन बढ़े किराए के बाद सवारियों के और ज्यादा बस संचालकों को तरसना पड़ रहा है। लिहाजा, निजी बस संचालक सवारियों को आकर्षित करने के लिए सवारियों को 20 से 25 फीसदी तक का डिस्काउंट दे रहे हैं। प्रदेश में किराए की दरें 25 फीसदी बढ़ाने के बाद सरकार लोगों के निशाने पर है और तो और सरकार का हाल ही में हुए बड़े फेरबदल के बाद सोशल मीडिया और लोगों में चर्चा यह है कि प्रदेश सरकार के फैसले से केंद्र सरकार भी खुश नहीं है और इसके कारण संबंधित मंत्री के सभी महकमों को बदला गया है। दूसरी ओर जिला कुल्लू के भुंतर-कुल्लू सहित मणिकर्ण, मनाली, औट, सैंज व बंजार के कई रूटों पर नया किराया वसूलने के बाद लोग बसों में सफर करने से ही तौबा कर रहे हैं। बहुत ही मजबूरी की दशा में लोग बसों में आ-जा रहे हैं अन्यथा दूसरे माध्यमों से सफर को तवज्जो दे रहे हैं। इसके कारण बस संचालकों को नुकसान उठाना पड़ रहा है। जानकारी के अनुसार किराया बढ़ने के बाद संचालकों को जहां ज्यादा कमाई होनी चाहिए थी, वहां इसके विपरीत बसों में कम सवारियां होने से कमाई कम हो रही है। इसके कारण कई संचालक अपनी बसों को विभिन्न रूटों पर चला ही नहीं रहे हैं। जानकारी के अनुसार भुंतर से कुल्लू के लिए नया किराया 25 रुपए हुआ है, लेकिन अधिकतर निजी संचालक इसमें छूट दे रहे हैं और 20 रुपए ही किराया ले रहे हैं। सवारियां भी उन्ही बसों के इंतजार में रहती हैं, जहां परिचालक उन्हें छूट देते हैं। हालांकि एचआरटीसी में विभिन्न प्रकार की छूट सवारियों को मिलती है, लेकिन इनमें भी सवारियां सफर नहीं कर रही हैं। नौबत यह आई है कि कई जगह पर एक ही बस को दो-दो रूटों पर एक समय में चलाना पड़ रहा है। एचआरटीसी के कुल्लू के प्रबंधक डीके नारंग के अनुसार अभी भी सवारियां बहुत कम मिली हैं, जिसके कारण बसों का तेल का खर्च निकालना तक कई रूटों पर मुश्किल हो रहा है और ऐसे में यहां पर बसें हालात सामान्य होने पर ही चलाई जा सकती हैं। उनके अनुसार हालांकि प्रबंधन सवारियों को सुविधाएं देने के लिए गंभीर प्रयास कर रहा है। बहरहाल, कोरोना काल में बस किराया बढ़ने के बाद सवारियों को आकर्षित करने के लिए डिस्काउंट प्रदान कर रहे हैं।

ठनकर युवक-महिला मंडल ने संवारा रास्ता

मंडी। जिला के युवक व महिला मंडल ठनकर ने संयुक्त रूप से शनिवार को सफाई अभियान का आयोजन किया। इस दौरान मंडल के सदस्यों ने ठनकर गांव को जाने वाले मुख्य रास्ते को साफ किया। इस अवसर पर महिला मंडल प्रधान कुंता देवी, रक्षा, सरला देवी, बंदना, निशा, कांता, प्रोमिला, रतन चंद, जगदीश, कुशल, कमलेश कुमार सहित अन्य उपस्थित रहे।

The post सवारियों ने बसों में बैठने से किया किनारा appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.