Saturday, October 24, 2020 11:13 PM

सेब के दाम धड़ाम, बागबान बेहाल

35 से 40 रुपए प्रति किलो में बिक रहा बढि़या क्वालिटी का सेब, सब्जी मंडियों से नहीं उठ रही फसल

पतलीकूहल-सेब सीजन के आरंभिक समय में घाटी में अरली बरायटी का सेब 70 से 120 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिका, जिससे बागबानों को उनकी फसल का बढि़या दाम मिलता रहा, लेकिन जैसे-जैसे घाटी में सेब समाप्ति की ओर अग्रसर हो रहा है उसके विपरीत सेब के दाम में भारी गिरावट आ गई है। स्थानीय सब्जी मंडियों में आढ़त का काम कर रहे आढ़तियों का कहना है कि देश की सब्जी मंडियों में सेब का उठाव नहीं हो रहा है, जिससे सेब के दामों में गिरावट आ गई है। स्थानीय सब्जी मंडियों में जो सेब 50 से 70 रुपए प्रति किलो बिक रहा था उसका दाम घटकर 30 से 40 रुपए प्रति किलो रह गया है। घाटी के निचले क्षेत्रों में सेब लगभग खत्म हो गया है और अब सेब समुद्र तल से 6 हजार फुट की उंचाई वाले क्षेत्रों में ही रह गया है, लेकिन अभी घाटी में ओवरऑल 40 फीसदी सेब बागानों में हैं।

सेब के दाम में जिस तरह से कमी आई है उससे घाटी के बागबान चिंतित हैं क्योंकि इस तरह की स्थिति तब उत्पन्न होती रही है जब कश्मीर का सेब देश की सुदुर सब्जी मंडियों में पहुंचता रहा है। बागबानों का कहना है कि इस वर्ष कोरोना माहामारी के चलते विदेश से भी सेब का आयात नहीं हुआ है उस सूरत में सेब के दाम बढ़ने चाहिए थे, लेकिन देश की सब्जी मंडियों में बैठे लदानियों के एकाधिकार के नीचे हमेशा बागबान पिसता रहा है। हालांकि इस स्थिति से निपटने के लिए प्रदेश सरकार को अन्य राज्यों की सरकारों से संपर्क कर कोई सकारात्मक कदम उठाने चाहिए पर ऐसा नहीं होता है। बागबान सरकार के आश्वासनों पर ही हर साल अपना सा मुंह लेकर रह जाता है जो सीजन में उसकी झोली में आता है उसी से संतोष करना पड़ता है। बागबानों का कहना है कि यहां की ऐसी संस्थाएं जो बागबानों के उत्थान के लिए कार्य करती हैं वह भी इस दिशा में बागबानों की उपज को सस्ते में बिकने पर कुछ नहीं कर पाती है।

सरकार बनाए मास्टर प्लान

बागबानों की बेहतरी के लिए सरकार इस तरह का मास्टर प्लान बनाए, जिससे बागबान को हर वर्ष सीजन के मध्य में सेब के भाव के आधे होने पर पछताना न पड़े। यदि घाटी में कोल्ड स्टोरों की सुविधा होती हो तो बागबान अपनी बढि़या फसल को उसमें रखकर सही समय आने पर उससे निकाल मार्केट में ला सकता है, जिससे वह सही दाम प्राप्त कर अपनी आय में सुधार कर सकता है।

The post सेब के दाम धड़ाम, बागबान बेहाल appeared first on Divya Himachal.