सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के बाद अब इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी भी घटा सकता है सिलेबस

 प्रवेश परीक्षा के प्रारूप में भी होगा बदलाव

 जेईई के सिलेबस में 30 फीसदी कटौती के आधार पर सेट हो सकते हैं पेपर

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के बाद अब इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी भी जल्द ही जेईई एडवांस के लिए कम करने और प्रवेश परीक्षा प्रारूप को बदलने पर विचार कर सकता है। हाल ही में सीबीएसई द्वारा सिलेबस की गई कटौती के बाद अब जेईई के सिलेबस में 30 फीसदी की कटौती के आधार पर पेपर सेट हो सकते हैं। हालांकि, अभी तक इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है।  एनटीए के अधिकारियों के मुताबिक संशोधित पुराने पाठ्यक्रम को समिति के समक्ष रखा गया है। विशेषज्ञों द्वारा यह देखा गया कि मेडिकल और इंजीनियरिंग परीक्षा में पूछे जाने वाले अधिकांश प्रश्न सीबीएसई पाठ्यक्रम से आए हैं। अधिकारी ने कहा कि हालांकि, स्टूडेंट पहले ही तैयारी शुरू कर देते हैं, लेकिन सीबीएसई सिलेबस में बदलाव को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। वहीं, इस साल आईआईटी दिल्ली की तरफ से जेईई एडवांस्ड का आयोजन किया जाएगा। आईआईटी दिल्ली के निदेशक, रामगोपाल राव के मुताबिक, हमें सिलेबस में हुए परिवर्तनों को देखना होगा और इस बदलाव को समिति के सामने रखना होगा। उन्हें यह जानना होगा कि पाठ्यक्रम के कुछ टॉपिक्स को अब शामिल नहीं किया जा सकता।

इस बार बिना मेरिट लिस्ट के जारी होगा सीबीएसई का रिजल्ट  

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन की 10वीं-12वीं की बची परीक्षाओं रद्द होने के बाद अब बोर्ड परिणाम जारी करने की तैयारियों में तेजी से जुटा हुआ है। कोर्ट के निर्देश के बाद संभावना है कि 10वीं- 12वीं के परीक्षा परिणाम 15 जुलाई को या उससे पहले भी जारी किए जा सकते हैं।

The post सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के बाद अब इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी भी घटा सकता है सिलेबस appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.

Related Stories: