Sunday, March 07, 2021 11:02 PM

चिंतपूर्णी मंदिर में पर्ची सिस्टम बंद

अब बिना पर्ची से श्रदालु कर पाएंगे मां के दर्शन ,पंचायत चुनावों के चलते होमगार्ड जवानों की ड्यूटियां लगने के कारण लिया फैसला

स्टाफ रिपोर्टर-चिंतपूर्णी

शक्तिपीठ चिंतपूर्णी मंदिर में माता रानी के दर्शनों के लिए अब दर्शन पर्ची की जरूरत नहीं होगी। मां के भक्त बिना दर्शन पर्ची के ही चिंतपूर्णी मंदिर में माथा टेक सकते हैं। गुरुवार से मंदिर प्रशासन ने तीनों जगह चल रहे दर्शन पर्ची सिस्टम को हटा दिया है और श्रदालुओं की सुविधा के लिए बिना दर्शन पर्ची के मंदिर भेजने की व्यवस्था शुरू कर दी है। मंदिर प्रशासन ने यह निर्णय पंचायत चुनावों के मद्देनजर होमगार्ड जवानों की ड्यूटियों के लगने के कारण लिया है। क्योंकि तीन जगह चल रहे दर्शन पर्ची देने की सारी व्यवस्था होमगार्ड जवानों के हवाले थी लेकिन अब हिमाचल में पंचायत चुनाव के चलते सारी फोर्स चुनावों में लग गई है इस कारण मंदिर प्रशासन ने दर्शन पर्ची काउंटर हटाने का फैसला लिया है। वहीं ठंड का मौसम होने के कारण वैसे भी चिंतपूर्णी मंदिर खाली पड़ा हुआ है और रोजाना श्रद्धालुओं की संख्या बेहद कम दिख रही है। यहीं नहीं फरवरी मार्च तक चिंतपूर्णी में पूरी तरह से मंदी छाई रहती है जिस कारण बिना दर्शन पर्ची श्रद्धालुओं को मंदिर में दर्शन करने की व्यवस्था फरवरी महीने तक रह सकती है।

फिलहाल मंदिर प्रशासन ने पर्ची के बिना दर्शन करने का 23 जनवरी तक रखा है जिसे आगे भी बढ़ाया जा सकता है। गौर है कि इससे पहले चिंतपूर्णी मंदिर में दर्शनों के लिए तीन जगह श्रद्धालुओं को दर्शन पर्ची दी जा रही थी जिन्हें होमगार्ड दे रहे थे लेकिन अब वैसे कोरोना का रिकवरी रेट पहले से काफी ज्यादा बेहतर हो गया है और सारी गतिविधियां भी धीरे-धीरे शुरू हो गई हैं। जिसको देखते हुए मंदिर प्रशासन भी श्रदालुओं की सुविधा के लिए लगाई गई बंदिशों को धीरे-धीरे हटा रहा है। उधर मंदिर अधिकारी अभिषेक भास्कर ने बताया कि चिंतपूर्णी मंदिर में दर्शनों के लिए दर्शन पर्ची के साथ दर्शन करने की व्यवस्था को फिलहाल हटा दिया गया है। उन्होंने बताया कि पंचायत चुनावों में होमगार्ड की ड्यूटियां लगने के कारण मंदिर में तैनात सभी होमगार्ड जवानों को यहां से जाना पड़ा है। मंदिर अधिकारी ने बताया कि कुछ दिनों के लिए बिना दर्शन पर्ची के ही मंदिर जाने की व्यवस्था रहेगी।