Thursday, August 13, 2020 01:25 PM

सोलन में बारिश लाएगी आफत

गिरि और अश्वनी खड्ड में आ जाती है गाद, नगर परिषद सहित जल शक्ति विभाग ने लोगों से पानी की बचत करने की अपील की

सोलन – बरसात के मौसम में शिमला जिला के पहाड़ी क्षेत्रों में होने वाली बारिश एक बार फिर सोलनवासियों के लिए आफत बन सकती है। पहाड़ी क्षेत्रों में होने वाली बारिश से गिरि व अश्वनी खड्ड में गाद आ जाती है, जिस कारण शहर की दोनों मुख पेयजल योजनाओं से पानी लिफ्टंग नहीं होती है। इस वर्ष भी होने वाली बारिश से आने वाले दिनों में शहर की पेयजल आपूर्ति प्रभावित हो सकती है। इसको देखते हुए नगर परिषद सहित जल शक्ति विभाग ने लोगों से पानी की बचत करने की अपील की है, ताकि समस्या विकराल रूप न ले सके। जुलाई माह में मानसून अपने पूरे शबाब पर होता है और लगातार बरसात से नदी-नालों का जलस्तर बढ़ जाता है। यह बरसात किसी के लिए खुशी तो किसी के लिए मुसीबत बन जाती है। सोलन शहर की बात करें तो बरसात का मौसम लोगों के लिए आफत बनकर आता है। इसका मुख्य कारण है शिमला जिला के पहाड़ी क्षेत्रों में होने वाली बारिश। इस बारिश्ा से पहाड़ी क्षेत्रों से बहकर काफी कुछ नदी-नालों में मिल जाता है और लगातार होने वाले भूमि कटाव से वह सोलन की जलापूर्ति परियोजनाओं गिरि व अश्वनी खड्ड में सिल्ट को बढ़ा देता है। सिल्ट बढ़ते ही जल शक्ति विभाग सोलन को दोनों ही परियोजनाओं में पानी लिफ्ट करने में काफी मुश्किलें आती हैं। पानी लिफ्ट न हो पाने पर विभाग नगर परिषद को डिमांड के अनुसार पानी मुहैया नहीं करवा पाता है और जिसका सीधा खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ता है। पिछले कई वर्षों से यही हालात बने हैं और इस बरसात में भी इसी तरह की आशंका जताई जा रही है। ऐसे में नगर परिषद व जल शक्ति विभाग के अधिकारी लोगों से पानी की बचत करने की अपील कर रहे हैं। बता दें की सोलन शहर में पेयजल की आपूर्ति का जिम्मा नगर परिषद के पास है। हालांकि परिषद को पेयजल की सप्लाई जल शक्ति विभाग द्वारा की जाती है।

The post सोलन में बारिश लाएगी आफत appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.