Friday, November 27, 2020 05:38 PM

स्टाफ रूम में देर तक न बैठें शिक्षक

एक साथ 22 अध्यापकों के पॉजिटिव आने के बाद एसओपी जारी

एक साथ 22 शिक्षकों के पॉजिटिव आने के बाद सरकार व शिक्षा विभाग हरकत में आ गया है। राज्य सरकार ने गुरुवार को स्कूल कालेजों के लिए एसओपी जारी कर दी है। शिक्षा विभाग ने कहा है स्कूल प्रबंधन शिक्षक, गैरशिक्षकों और अभिभावकों सहित सभी में आत्मविश्वास भरें। संक्रमण के प्रति भय दूर कर उन्हें एहतियात बरतने के बारे में जागरूक करें। इसके साथ ही विभाग की ओर से जारी एसओपी में प्रिंसीपल को कहा गया है कि शिक्षक सोशल डिस्टेंस को कायम रखें, वहीं स्कूल परिसर के अंदर स्टाफ एक साथ न बैठे। इसके साथ ही सरकार के आदेश हैं कि शिक्षक ज्यादा समय तक स्टाफ रूम में भी सबके साथ समय व्यतीत न करें। अगर कोई बैठक भी होती है, तो उसमें भी दूरी बनाकर रखें। यह भी कहा गया है कि प्रिंसीपल की जिम्मेदारी है कि छात्र व शिक्षकों को गेट से अंदर तभी एंट्री दी जाए, जब थर्मल स्कैनिंग हो।

 थर्मल स्कैनिंग के बाद भी नॉर्मल टेंपरेचर होने के बाद ही परिसर के अंदर छात्र व शिक्षकों को एंट्री दी जाए। इसके साथ ही शिक्षकों को कहा गया है कि अगर उनमें सिमटम्स आते हैं, तो ऐसे में वे पूरी तरह से क्वारंटाइन हो जाएं। स्कूल में हैंड वाश व साबुन की सुविधा भी छात्रों को देनी होगी।  शिक्षा विभाग ने स्कूल व कालेज प्रबंधन को आदेश दिए हैं कि क्लासरूम में छात्रों के बीच भी दो गज की दूरी बनाए रखे। एक रो छोड़कर छात्रों को बिठाया जाएए इसके साथ ही स्कूल-कालेज प्रबंधन को एक स्पेशल कमेटी बनानी होगी। यह कमेटी ही संस्थान के सीटिंग प्लान के बारे में पूरा जायजा लेंगे। अहम यह है कि शिक्षक छात्रों को अगर कोई सिम्टम्स आते है, तो उनके तुरंत नजदीकी अस्पताल में टेस्ट कराने होंगे।

The post स्टाफ रूम में देर तक न बैठें शिक्षक appeared first on Divya Himachal.