Monday, October 18, 2021 03:55 PM

2022 में प्रदेश सरकार का जाना तय

निजी संवाददाता - श्रीरेणुकाजी शिमला ग्रामीण के विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री स्व. वीरभद्र सिंह के पुत्र विक्रमादित्य सिंह ने प्रदेश सरकार को विफलताओं पर आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि यह सरकार खाली सपने दिखा रही है। चाहे वह रोजगार को लेकर हो, इन्वेस्टर मीट को लेकर हो, चारधाम की यात्रा हो, डबल इंजन की सरकार हो इन सभी मुद्दों पर इस सरकार ने लोगों को ठगा है, लेकिन यह सरकार हर एक मुद्दे पर विफल रही है। विक्रमादित्य सिंह ने यहां पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार का जाना तय है। 2022 में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बहुमत के साथ बनेगी और कांग्रेस पार्टी हर एक वर्ग हर एक जाति हर एक युवक के साथ भावनात्मक रूप से जुड़ी है।

स्वर्ण आयोग का गठन उन्होंने समय की जरूरत बताया। उन्होंने कहा कि पहले दिए गए रिजर्वेशन में कोई छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए, बल्कि सवर्ण जाति के लोगों को भी गरीबी के आधार पर आरक्षण देना चाहिए। विक्रमादित्य ने कहा कि आज देश की अर्थव्यवस्था का बेड़ा गर्क कर दिया गया है। वह दिन दूर नहीं जब प्रदेश भी दिवालियापन की चपेट में आ जाएगा। उन्होंने कहा कि शिखर की ओर हिमाचल बनने की बजाय शिखर की ओर हिमाचल दिवालियापन की राह पर चल रहा है, जिसके केवल कांग्रेस पार्टी ही पटरी पर ला सकती है। उन्होंने कहा कि उनके स्व. पिता पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का सिरमौर से बड़ा लगाव था। रेणुका क्षेत्र के दिवंगत विधायक डा. प्रेम सिंह से उनका बहुत प्यार था। वर्तमान विधायक विनय कुमार के उपर उनके पिता का वरद हस्त था। उनका परिवार जिला सिरमौर से भावनात्मक रूप से जुड़ा है और हमेशा जुड़ा रहेगा। कांग्रेस ने ही प्रदेश का विकास किया है। इस अवसर पर कांग्रेस के जिला अध्यक्ष कंवर अजय बहादुर सिंह, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गंगूराम मुसाफिर सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।