Tuesday, April 13, 2021 11:02 AM

विधायकों पर हो कड़ी कार्रवाई

श्रीमद्भागवत कथा के अंतिम दिन स्वामी मंगलानंद जी महाराज ने सुनाया भगवान श्री कृष्ण और सुदामा का प्रसंग

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-ऊना ब्राह्मण को हर रोज पांच घरों में धर्म, न्याय व सत्कर्म की शिक्षा देनी चाहिए। यह बात गुरुवार को महादेव मंदिर कोटलाकलां परिसर में कपिला परिवार के सौजन्य से स्वामी मंगलानंद जी महाराज के आशीर्वाद व सरंक्षण में चल रही श्रीमद्भागत कथा के अंतिम दिवस पर प्रवचनों की बौछार करते हुए आचार्य शिव कुमार शास्त्री जी ने कही। कथा को आगे बढ़ाते हुए कथा व्यास ने भगवान श्री कृष्ण व श्री सुदामा का प्रसंग सुनाया। उन्होंने कहा कि सुदामा व उनके परिवार की भगवान में पूर्ण आस्था थी। उनके आस्था पूर्वक एक चावल के दाने के भगवान को अर्पण करने से समस्त ब्रहांड का पेट भर गया। श्री सुदामा द्वारिका जाने के लिए निकले तो कीर्तन करती टोली के साथ चल पड़े। कीर्तन करते-करते सुदामा वाराणसी पहुंच गए। इसके बाद वह द्वारिका के लिए निकले तो नदी पार करवाने के लिए स्वयं भगवान केवट बनकर पहुंच गए। केवट स्वरूप में भगवान श्रीकृष्ण ने सुदामा से किराए के बदले गरीबी ले ली। चार घरों के मांगे चावलों से भरी पोटली लेकर भगवान श्रीकृष्ण के दर्शन करने श्री सुदामा भगवान के दर पहुंचे।

उनको देखकर भगवान प्रफुल्लित हो उठे। श्रीकृष्ण व सुदामा की अटूट मित्रता थी। सुदामा को गले लगाकर श्रीकृष्ण खूब रोए। गुरु माता द्वारा दिए चने श्रापित होने के चलते सुदामा ने उसे श्रीकृष्ण को खाने को नहीं दिया। भगवान श्रीकृष्ण ने चार मु_ी चावल के बदले सुदामा को समस्त ब्रह्मांड के सुख दे दिए। उन्होंने कहा कि वाणी व लोभ पर नियंत्रण करके झगड़ों को टाला जा सकता है। अपने माता-पिता व बड़े बुजुर्गों का आदर करना चाहिए। एक कहे और दूसरा माने, इससे बड़ी समस्याओं का निदान होता है। महाभारत में पांडवों के पक्ष में धर्म था इसलिए पांडवों की जीत हुई थी। नशे पर चोट करते हुए शिव कुमार शास्त्री जी ने कहा कि समाज को नशों के खिलाफ अभियान चलाना चाहिए। आचार्य शिव कुमार शास्त्री ने भजनों की लड़ी सुनाकर संगतों को भावभिवोर कर दिया। इस अवसर पर स्वामी मंगलानंद जी महाराज ने सभी श्रद्धालुओं को आशीर्वाद दिया। कथा के विराम दिवस पर हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। वही विशाल भंडारे में सैंकड़ों श्रद्धालुओं ने लंगर का प्रसाद ग्रहण किया। इस अवसर पर कथा आयोजक दर्शना कपिला, राकेश कपिला, सुमन कपिला, पूजा कपिला, पलक, कृष्णा, विजय साहनी, अश्वनी जैतक, अशोक ओहरी, रामपाल धीमान, सोमनाथ कौशल सहित भारी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

स्टाफ रिपोर्टर-अंब हिमाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रदेश अध्यक्ष चेतन बरागटा एवं उपाध्यक्ष अनिल डढवाल के पधारने पर भारतीय जनता पार्टी चिंतपूर्णी मंडल की सूचना एवं प्रौद्योगिकी टीम द्वारा अंब में गुरुवार को उनका भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष चेतन वरगटा ने आईटी टीम को सोशल मीडिया में अच्छा काम करने के लिए बधाई दी तथा काम को सही ढंग से तथा सुचारू रूप से आगे भी जारी रखने के लिए टिप्स दिए। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी चिंतपूर्णी मंडल के सूचना एवं प्रौद्योगिकी संयोजक संजीव कुमार ने कहा कि वह और उनकी टीम पूरी ताकत, जोश, ईमानदारी, मेहनत तथा लगन के साथ अपने प्रिय विधायक बलबीर सिंह तथा संगठन के लिए काम करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि उनका पूरा जीवन देश सेवा में अग्रिम मोर्चे पर रहकर गुजरा है। देश सेवा की भावना बचपन से ही उनमें कूट-कूट कर भरी है। इसी कारण से वह राजनीति में आए हैं और राजनीति उनके लिए मानव सेवा है। इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य एडवोकेट रितेश पलियाल, ऑफिशियल सेके्रटरी कुलदीप ठाकुर, सुरेंद्र कुमार, कर्ण ठाकुर, रवि कुमार, विक्रम सिंह सहित अन्य मौजूद थे।

छपरोह पंचायत में सात को ग्राम सभा भरवाईं। अंब ब्लॉक के अंतर्गत छपरोह चिंतपूर्णी पंचायत की प्रधान शशि बाला ओर उपप्रधान संजय कालिया ने कहा कि सात मार्च को पहली ग्राम सभा का आयोजन ग्राम पंचायत भवन में होगा। उन्होंने सभी ग्रामवासियों से मांग की है कि समस्त ग्रामवासी इस ग्राम सभा में आए और इस सभा को सफल बनाने में योगदान दें। इस ग्रामसभा में सरकार द्वारा दिये गए एक साल पांच काम को लेकर सभी ग्रामवासियों से सलाह ली जाएगी और इसे अमलीजामा पहनाने का काम किया जाएगा।

दिव्य हिमाचल ब्यूरो- ऊना हिमाचल प्रदेश अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ जिला ऊना के अध्यक्ष रमेश सिंह ठाकुर ने डिपू राशन पर मिलने वाली सबसिडी को छोडऩे का निर्णय लेकर प्रदेश के समस्त कर्मचारियों के लिए एक मिसाल पेश की है। रमेश सिंह ठाकुर ने अपनी इच्छा से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत डिपू राशन पर मिलने वाली सबसिडी को छोडऩे का निर्णय लिया है। उन्होंने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत सरकारी डिपों में राशन पर मिलने वाली सबसिडी को विधिवत छोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि वह खुद सरकारी कर्मचारी है।

सरकार की तरफ से मिलने वाले वेतन से अपने परिवार का पालन पोषण करने में पूरी तरह सक्षम है। कर्मचारी नेता ने बताया हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा भी लोगों से सबसिडी छोडऩे की अपील की हुई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बहुत से जरूरतमंद लोग हैं, जिनको भरपूर मात्रा में राशन की जरूरत है। समाज का वह यह वर्ग है जो कि घोर गरीबी के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में राशन पर मिलने वाली सबसिडी के असली हकदार यही वर्ग है, ताकि वह अपने परिवार का पालन पोषण आसानी से कर सकें।

हंबोली में ओवरलोडेड टिप्परों से तंग ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन निजी संवाददाता- चुरुडू उपमंडल अंब के अधीन ग्राम पंचायत हंबोली में गुरुवार को ओवरलोडिंग टिप्परों की आवाजाही से परेशान स्थानीय ग्रामीणों ने टिप्परों का रास्ता रोक रोष-प्रदर्शन किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार गत तीन-चार महीनों से लगातार स्वां से पत्थर, रेत आदि ढो रहे टिप्परों के कारण सड़कों के किनारे बसे घरों में धूल-मिट्टी से परेशान हो रहे थे। वहीं, गुरुवार को ग्रामीण इस कद्र गुस्सााएं की उन्होंने टिप्परों का रास्ता रोक प्रदर्शन किया। स्थानीय निवासियों का कहना है कि रोजाना टिप्परों की आवाजाही से उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उनका कहना है कि एक तो टिप्परों में क्षमता से अधिक माल ढोया जा रहा है। वहीं, जिससे चुरुडू-हंबोली सड़क की हालत भी बदतर हो गई है, लोगों का कहना है कि ओवरलोडिंग टिप्परों की वजह से सड़क जगह-जगह से टूटने की कगार पर है। वहीं, कई जगहों पर सड़कों की ऊपरी परत भी उखड़ चुकी है। इससे की उस जगह पर कोई भी वाहन गुजरने पर धूल का गुबार सड़क पर रहता है। इससे की धूल-मिट्टी उनके घरों तक पहुंच रही है। लोगों का कहना है कि उन्होंने कई बार इसके लिए अधिकारियों से बात की साथ संबंधित फर्म को आगाह किया था, परंतु उनकी बात किसी भी ने नहीं सुनी। इस कारण उन्होंने अब रोष स्वरूप टिप्परों की आवाजाही रोकी है। स्थानीय निवासिओं का कहना है कि उनकी इस समस्या का स्थायी हल निकाला जाए। क्योंकि ओवरलोडिड टिप्परों की बजह से सड़क की हालत भी बदतर हो रही है। धूल मिट्टी के गुबार से उनके घरो की हालत भी खराब हो रही है।

मौके पर पुलिस ने की करवाई ओवरलोडिंग टिप्परों को रोककर प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों मांग पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चार टिप्परों को पकड़कर 60 हजार रुपए का चालान कर जुर्माना वसूला है। वहीं, संबंधित फर्म को आगे भविष्य में ओवरलोडिंग न करने के सख्त दिशा-निर्देश दिए।

स्टाफ रिपोर्टर- संतोषगढ़ नगर संतोषगढ़ नंगल रोड पर बाइक ओर एक्टिवा की आमने सामने जबरदस्त टक्कर हो गई। इसमे बाइक सवार युवक की मौत हो गई। जबकि स्कूटी सवार युवकों को भी चोटे आई है। संतोषगढ़ पुलिस ने दोनों चालको के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार संतोषगढ़-नंगल रोड पर गुरुवार को बाइक व एक्टिवा की दोपहर करीब तीन बजे आमने सामने जबरदस्त टक्कर हो गई, जिसमे बाइक सवार युवक को गंभीर चोट आने के चलते लोगो द्वारा अस्पताल ले जाया गया।

जहाँ पर डाक्टर द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया गया। जबकि स्कूटी सवार युवकों को भी चोटें आई है। पुलिस ने मृतक चालक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय अस्पताल भेज दिया है। संतोषगढ़ चौकी प्रभारी प्रदीप कुमार ने बताया कि दोनों चालकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और कार्रवाई की जा रही है।

नगर संवाददाता- ऊना विधानसभा सत्र के दौरान राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय के साथ दुव्र्यवहार मामले में गुरुवार को जिला भाजपा ऊना ने छठें राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती की अगवाई में राष्ट्रपति को उपायुक्त के माध्यम से ज्ञापन भेजा। इस अवसर पर सतपाल सिंह सत्ती ने बताया कि ज्ञापन के जरिए जिला ऊना भाजपा ने आरोपी कांग्रेसी विधायकों की सदस्यता रद्द करने की मांग की है, ताकि इस तरह की घटनाओं की पुनरावृति न हो सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के विधायकों ने लोकतांत्रिक मर्यादाओं को ताक पर रखकर सभी सीमाएं लांघते हुए देवभूमि हिमाचल प्रदेश को शर्मसार किया है।

ऐसे में उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। सतपाल सत्ती ने कहा कि कांग्रेसी विधायकों की शर्मनाक हरकत की वजह से हिमाचल प्रदेश के निवासियों को भावनाएं आहत हुई हैं तथा राज्यपाल जैसे संवैधानिक पद की गरिमा को भी ठेस पहुंची है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस प्रकार का दुव्र्यवहार कतई सहन नहीं कर सकती है। इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल शर्मा, मंडल अध्यक्ष हरपाल सिंह गिल, जिला महामंत्री राजकुमार पठानिया, मंडल अध्यक्ष कुटलैहड़ मास्टर तारसेम लाल, बशीर मुहमद, पवन कपिला, सुरजीत सैनी, खामोश जैतिक उपस्थित रहे।