Saturday, September 26, 2020 01:13 PM

तीन दिन में भेजो शिक्षकों का ब्यौरा

प्रदेश शिक्षा विभाग ने दिए निर्देश; सभी जिलों से मांगे पीटीए, पैरा, टीजीटी की शैक्षणिक योग्यता के प्रमाणपत्र

सिटी रिपोर्टर — शिमला

शिक्षा विभाग ने पीटीए व पैरा शिक्षकों को रेगुलर करने के लिए अब एक ओर औपचारिकता पूरी करने का प्रोसेस शुरू किया है। सरकार से कुछ शर्तों के साथ शिक्षकों के नियमित करने के फैसले के बाद अब प्रारंभिक शिक्षा विभाग ने तीन दिन के अंदर पीटीए, व पैरा शिक्षकों का रिकॉर्ड भेजने को कहा है। जिलों से शिक्षकों का ब्यौरा मांगा है। इसको लेकर विभाग की ओर से जिला उपनिदेशकों को निर्देश जारी किए गए हैं।

इसके तहत विभाग ने 29-6-2006 से 3-1-2008 में पीटीए अनुबंध/ग्रांट इन एड के तहत नियुक्त हुए पीटीए, टीजीटी का ब्यौरा देने को कहा है। इसमें स्कूलों को पात्र शिक्षक के शैक्षणिक संबंधी प्रमाण पत्र, चरित्र प्रमाण पत्र सहित सभी आवश्यक दस्तावेज  शिक्षा निदेशालय 13 अगस्त तक भेजने को कहा गया है। इसके साथ ही 3-1-2008 के बाद नियुक्त हुए टीजीटी की भी अलग से सूची भेजने को कहा गया है।

शिक्षा विभाग ने इसके लिए एक परफोर्मा भी जारी किया है। इसमें भी  उक्त शिक्षकों की शैक्षणिक योग्यता सहित अन्य जानकारी भरकर शिक्षा निदेशालय भेजने को कहा गया हैं। इसके अलावा शिक्षा विभाग ने लेफ्टआउट पैरा शिक्षकों की जानकारी भी जिलों से मांगी है। गौर हो कि लगातार शिक्षा विभाग व सरकार नई-नई शर्तें पीटीए पैट पैरा को रेगुलर करने के लिए लगा रहे हैं। लंबे समय से नियमित होने का इंतजार कर रहे इन शिक्षकों का सब्र बांध भी टूटता नजर आ रहा है।

पूरे करने होंगे वर्तमान शिक्षा नियम

2006 से 2008 तक भर्ती किए गए पीटीए व पैरा शिक्षकों ने शिक्षा के नियमों को अगर पूरा नहीं किए होंगे, तो उन्हें वर्तमान शिक्षा नियमों को पूरा करना होगा। हालांकि शिक्षा विभाग से जानकारी के अनुसार राज्य के पांच प्रतिशत ही ऐसे पैरा व पीटीए शिक्षक हैं, जो आर एंड पी रूल्ज पूरा नहीं करते हैं। ऐसे में अब पांच प्रतिशत शिक्षकों को भी सरकार शिक्षक बनने के नियमों को पूरा करने के लिए समय दे सकती है।

The post तीन दिन में भेजो शिक्षकों का ब्यौरा appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.