Friday, October 23, 2020 05:29 AM

थानाखास में गोकुल ग्राम पहुंचाए 200 गोवंश

कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में बेसहारा गोवंश को आश्रय देने के लिए गोकुलग्राम का काम जारी

बंगाणा-कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र में बेसहारा गोवंश को आश्रय देने के लिए थानाखास में गोकुल ग्राम का कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। गोकुल ग्राम का पहले चरण में चारों तरफ फेसिंग का कार्य पूरा हो चुका है। लेकिन अभी तक काफी कार्य प्रगति पर है। कार्य मुक्कमल होने से पहले ही लोगों द्वारा ट्रकों-ट्रालों में भरकर 200 के करीब गोवंश को गोकुल ग्राम में पहुंचा दिया गया है। गोकुल ग्राम में इन गोवंश की देखभाल के लिए  कोई कर्मचारी तक तैनात नहीं किए गए थे। ऐसे में लोगों द्वारा गोकुल ग्राम में गोवंश को छोड़ देने के बाद गोकुल ग्राम में तीन कर्मचारियों की तैनाती की गई है, वहीं उनके खाने के लिए तूड़ी, घास व पानी का प्रबंध किया गया।

बताते चले कि गोकुल ग्राम थानाखास में पहले चरण का कार्य पूरा होने के चलते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर उद्घाटन का कार्यक्रम रखा गया था, लेकिन खराब मौसम के चलते सीएम का दौरा नहीं हो पाया। गोशाला कमेटी के अध्यक्ष एवं कैबिनट मंत्री वीरेंद्र कंवर, राज्य गो सेवा आयोग के सदस्य कृष्ण पाल शर्मा ने आनन फानन में तीन कर्मचारियों की गोकुल ग्राम में तैनाती करके पहले तो घायल गोवंश का उपचार करवाया।

500 कनाल में बन रहा गोकुल ग्राम

गो सेवा आयोग के सदस्य कृष्ण पाल शर्मा ने कहा कि कुटलैहड़ के थाना खास में 500 कनाल में गोकुलग्राम बनने जा रहा है। अभी तक इसकी चारों तरफ से फेंसिंग हुई है। एक बड़ा गो शैड ओर तूड़ी शैड बनाया गया है। पानी और सड़क की व्यवस्था की गई है। शर्मा ने कहा कि विडंबना यह रही कि अभी प्रथम चरण का भी गोकुल ग्राम का उद्घाटन नहीं हुआ है कि लोगों ने 200 से ज्यादा बेसहारा गोवंश गोकुल ग्राम भेज दिया है। अब या तो उस 200 से ज्यादा बेसहारा गोवंश की व्यवस्था करें या फिर गोकुल ग्राम का आगे का कार्य शुरू करें।

अभी तक खर्च हुए दो करोड़

राज्य गो सेवा आयोग के सदस्य कृष्ण पाल शर्मा ने कहा कि कुटलैहड़ के थाना खास में बन रहे 500 कनाल में गोकुल ग्राम के लिए 12 करोड़ स्वीकृत हुए है। अभी तक लोक निर्माण विभाग के सौजन्य से पशुपालन विभाग ने मात्र दो करोड़ फेंसिंग, सड़क निर्माण पुलिया निर्माण, गोशैड, तूड़ी शैड और पानी की व्यवस्था पर खर्च किया है। अभी तक गोकुल ग्राम मे पशुपालन विभाग ने कोई कमेटी की नोटिफिकेशन भी नहीं की है। लेकिन फिर भी मंत्री वीरेंद्र कंवर के दिशा-निर्देशों से गोकुल ग्राम में 200 से ज्यादा बेसहारा गोवंश की देखरेख की जा रही है।

जनता की सुविधा को बन रहा गोकुल ग्राम

पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ के थाना खास में 12 करोड़ से बन रहे गोकुल ग्राम जनता की सुविधा के लिए है, लेकिन उद्घाटन से पूर्व ओर बिना व्यवस्था के 200 से ज्यादा वेसहारा गोवंश छोड़ कर कुछ लोगों ने सरकार एवं विभाग की चिंता बढ़ाई है। हमने अब तीन कर्मचारी अनोफिसलि गोकुल ग्राम में नियुक्त किए है।

The post थानाखास में गोकुल ग्राम पहुंचाए 200 गोवंश appeared first on Divya Himachal.