Tuesday, December 07, 2021 05:56 AM

लड़की का था जाखू में मिला नवजात का भ्रूण

पोस्टमार्टम में हुआ खुलासा, पुलिस ने शुरू की जांच

स्टाफ रिपोर्टर—सुजानपुर

बेशक लड़कियां आज ऊंचे से ऊंचा मुकाम हासिल कर रही हैं, हर पायदान पर उनका डंका बज रहा है, लेकिन लड़कियां कल भी पराई थीं और आज भी पराई हैं। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि जिस नवजात शिशु का भ्रूण उपमंडल सुजानपुर के जाखू गांव में मिला है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद वह भ्रूण लड़की का बताया गया है। मतलब काल का ग्रास बनने वाला नवजात शिशु लड़का नहीं लड़की थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद यह भी खुलासा हुआ है कि जो भ्रूण किसी ने फेंका है वह मेच्योर डिलीवरी हुई है और सप्ताह भर पहले उसका जन्म हुआ है। तमाम बातें सामने आने के बाद मानवता तो शर्मसार हुई है, लेकिन सबसे बड़ी बात अब सामने आई है कि मरने वाला शिशु लड़की है।

इस घिनौने काम को किसने अंजाम दिया है। इस कृत्य को करने वाला कौन है, तमाम बातों की छानबीन को लेकर जिला पुलिस अलर्ट मोड पर आ गई है। जांच के लिए कमेटियों का गठन करके कार्रवाई की जा रही है। जांच के लिए विशेष टीमें हमीरपुर जिला के स्वास्थ्य केंद्र में सप्ताह-दो सप्ताह के भीतर जो भी डिलीवरी हुई है या फिर पैदा होते ही जिन बच्चों की मौत हुई है उनकी जांच पड़ताल कर रही है। पंचायत स्तर पर जांच का कार्य शुरू किया गया है। पंचायत प्रतिनिधियों का सहयोग लेकर इस गंदे काम के गुनहगारों को ढूंढने का कार्य किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत आशा वर्कर, हैल्थ सुपरवाइजर, आंगनबाड़ी वर्कर से ब्यौरा इक_ा करके जांच की जा रही है। जिला पुलिस उपाधीक्षक की मानें तो इस काम को जिसने भी किया है उसे बख्शा नहीं जाएगा। बताते चलें कि हिमाचल प्रदेश में नवजात शिशुओं को मारने का सिलसिला लगातार बढ़ रहा है। इससे पहले जिला मंडी में एक महिला ने अपने दो नवजात शिशु नाले में फेंक दिए थे, जिनके मृत शरीर दो दिन बाद पुलिस के हत्थे लगे थे। मानवता को शर्मसार करने वाले ऐसे काम लगातार हिमाचल में बढ़ रहे हैं। इस बात का पता लगाने के लिए पुलिस युद्ध स्तर पर कार्य करके गुनहगारों को ढूंढने का काम कर रही है