Monday, October 18, 2021 04:18 PM

बारिश ने फिर रोकी शिमला की रफ्तार

सिटी रिपोर्टर-शिमला राजधानी शिमला में इस बार बारिश के चलते शहर में काफी नुकसान हुआ है। बारिश के चलते जगह-जगह भूस्खलन होने और पेड़ों के गिरने का सिलसिला अभी भी जारी है। गुरुवार को भी शहर में कई जगह भूस्खलन हुआ और कुछ एक जगहों पर पेड़ों की टहनिया भी गिरी। बुधवार देर रात से हो रही बारिश के चलते वीरवार को जहां संजौली ढली पेट्रोल पंप के पास गाड़ी के ऊपर पत्थर गिरने से गाड़ी को नुकसान पहुंचा, तो वहीं शिमला के ओल्ड बस स्टैंड के पास भी दंगा धंसने से मलबा सड़क पर आ गिरा। इसके अलावा बारिश और धुंध के चलते शहर में कई जगह दिनभर जाम लगता रहा। वहीं बीते महीने पंथाघाटी वार्ड के शिव मंदिर के पास हुए भू-स्खलन के साथ लगते मकान को भी अब खतरा हो गया है।

गुरुवार को यहां पर फिर भू-स्खलन हुआ है, जिसके चलते मकान की नींव को नुक्सान पहुंचा है। एक महीने पहले ही यहां पर भू-स्खलन हुआ था, जिसमें एक गाड़ी भी चकनाचूर हो गई थी। वहीं, अब दोबारा उसी जगह पर भू-स्खलन होने से साथ लगती बिल्डिंग की नींव को खतरा हो गया है। हालांकि अभी बिल्डिंग को खाली नहीं करवाया गया है। गुरुवार को घटना की सूचना मिलते ही प्रशासन सहित स्थानीय पार्षद भी मौके पर पहुंचे। पार्षद राकेश शर्मा ने बताया कि पिछले महीने ही यहां पर भू-स्खलन हुआ था। उस दौरान एक गाड़ी को भी नुकसान पहुंचा था, अब दोबारा उसी जगह पर भू-स्खलन हुआ है, जिसके चलते बिल्डिंग को खतरा हो गया है। उन्होंने कहा कि अगर यहां पर ज्यादा भूस्खलन होता है, तो बिल्डिंग को खाली करवाया जाएगा और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट भी किया जाएगा। बता दें की शहर में लगातार हो रही बारिश के चलते बीते एक महिने के अंदर शहर में कई जगह भूस्खलन और पेड़ गिरने से लोगों को काफी नुक्सान हुआ है।