Sunday, November 29, 2020 03:46 PM

टिप्पर ने कुचला माइनिंग गार्ड

दशहरे के दिन पांवटा साहिब में बांगरण-भंगानी सड़क मार्ग पर पेश आया दर्दनाक हादसा, पांच घंटे सड़क जाम

 पांवटा साहिब-पांवटा साहिब में दशहरे के दिन एक सड़क हादसे में युवा माइनिंग गार्ड की दर्दनाक मौत हो गई। यहां के बांगरण-भंगानी सड़क मार्ग पर हरिपुर टोहाना के समीप एक बेलगाम डंपर ने बुलट नंबर (एचपी 17एफ-2541) पर जा रहे माइनिंग गार्ड को कुचल डाला, जिससे युवक की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। मृतक युवक अजय शर्मा उर्फ सन्नी गिरिपार क्षेत्र के नघेता का रहने वाला था। पुलिस के मुताबिक यह हादसा उत्तराखंड नंबर के एक टिप्पर (यूके 16सीए-5886) के चालक की लापरवाही से हुआ है। हादसा इतना भयानक था कि युवक की घटनास्थल की मौत हो गई। पुलिस ने चालक को गिरफ्तार कर लिया है और युवक का शव कब्जे में ले लिया है।

वहीं हादसे के बाद मौके पर सैकड़ों लोग पहुंच गए और सड़क पर शव रखकर प्रदर्शन किया। आक्रोशित लोगों की मानें, तो यह सड़क दुर्घटना हत्या भी हो सकती है, क्योंकि मृतक माइनिंग विभाग में था तथा अवैध खनन वालों को इससे दिक्कत हो सकती थी। घटना की सूचना मिलने पर ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी, डीएसपी बीर बहादुर सिंह और नायब तहसीलदार मौके पर पहुंचे, लेकिन आक्रोशित ग्रामीणों ने करीब पांच घंटे रोड जाम रखा। ग्रामीण डीसी सिरमौर के मौके पर आने की मांग कर रहे थे। उसके बाद ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने परिजनों से बात की तथा आश्वासन दिया कि परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी और परिवार को उचित मुआवजा दिया जाएगा, जिसके बाद परिजन मानें और शव को पुलिस पोस्टमार्टम के लिए पांवटा साहिब लाई। वहीं हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव अनिंद्र सिंह नौटी ने आरोप लगाया कि प्रशासन और खनन माफिया की मिलीभगत से आए दिन बेलगाम टिप्पर और डंपर से ऐसे हादसे हो रहे हैं, लेकिन प्रशासन चुप्पी साधे है। उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों को फौरी राहत के तौर पर 50 लाख रुपए देने और मामले की एसआईटी से जांच करवाई जानी चाहिए। डीएसपी पांवटा साहिब बीर बहादुर सिंह ने बताया कि आरोपी टिप्पर चालक को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की जा रही है।

The post टिप्पर ने कुचला माइनिंग गार्ड appeared first on Divya Himachal.