Friday, September 24, 2021 06:13 AM

टूरिज्म इंडस्ट्री को निखारने के लिए किए जाएंगे प्रयास

स्टाफ रिपोर्टर-सोलन कोरोना काल में पड़ी मार से प्रदेश की टूरिज्म इंडस्ट्री को उभारने के लिए पूर्ण प्रयास किए जाएंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में ऐसी नीतियां बनाई जाएंगी, जिससे न केवल प्रदेश पर्यटन विकास निगम के होटलों बल्कि अन्य निजी होटलों को भी संजीवनी मिल सके। यह कहना है हिमाचल प्रदेश टूरिज्म डिवेलपमेंट बोर्ड की नवनियुक्त उपाध्यक्ष रश्मिधर सूद का। सोलन से संबंध रखने वाली रश्मिधर सूद वर्तमान में भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष हैं और वे न केवल प्रदेश बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर भी पार्टी में विभिन्न पदों पर कार्यरत रह चुकी हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की कर्मठ सदस्य के रूप में छात्र राजनीति से अपना राजनीतिक सफर शुरू करने वाली रश्मिधर राजनीति ही नहीं बल्कि समाजसेवा, खेल सहित थियेटर आर्टिस्ट के रूप में अपनी अलग पहचान बना चुकी हैं। रंगमंच का शौक उन्हें कालेज स्तर पर ही लग गया था और अपनी सच्ची लगन व मेहनत के दम पर उन्हें प्रतिष्ठित स्मिता पाटिल बेस्ट नेशनल फिमेल एक्टर अवार्ड इन थियेटर से भी नवाजा जा चुका है। हॉकी में भी वे इंटर-यूनिवर्सिटी व नेशनल चैंपियनशिप में भी अपनी टीम की कप्तानी कर चुकी हैं। वे सोलन के प्रतिष्ठित फिलफॉट फोरम की सक्रिय सदस्य हैं और यह संस्था प्रतिवर्ष राष्ट्रीय स्तरीय नाट्य व नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन करती है।

बतौर समाजसेवी उन्होंने दिव्यांगों विशेषकर मंदबुद्धि बच्चों की सहायता के लिए बहुत कार्य किया है और वे वर्ष 2005 से चेतना संस्था की अध्यक्ष भी हैं। इसके अलावा स्पेशल ओलंपिक में भी उनका योगदान रहता है और वे स्पेशल ओलंपिक की प्रदेश स्तरीय को-चेयरपर्सन भी हैं। उन्होंने अमरीका व चीन में आयोजित इंटरनेशनल स्पेशल ओलंपिक में भारतीय दल के साथ भाग लिया है और दक्षिण कोरिया में आयोजित इंटरनेशल विंटर ओलंपिक व ऑस्ट्रिया में आयोजित विंटर स्पेशल ओलंपिक गेम्स में भी बतौर प्रतिभागी हिस्सा लिया। एबीवीपी से अपने राजनीतिक सफर की शुरूआत करने के बाद रश्मिधर सूद को वर्ष 2013 में भाजपा महिला मोर्चा का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया गया था। इस दौरान उन्होंने उत्तर प्रदेश के प्रभारी के रूप में भी अपनी भूमिका को बखूबी निभाया। वर्तमान में वे प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं और शुक्रवार को जारी अधिसूचना के बाद उन्हें हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास बोर्ड का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। दिव्य हिमाचल से विशेष बातचीत में उन्होंने बताया कि कोरोना काल में अन्य व्यवसायों के साथ-साथ प्रदेश के पर्यटन व्यवसाय पर विपरीत असर पड़ा है। इसे फिर से पटरी पर लाने के पूर्ण प्रयास किए जाएंगे।