Saturday, October 31, 2020 01:21 AM

बेकाबू हुआ कोरोना: सोलन में दो और संक्रमित मरीजों ने तोड़ा दम, एक कंडाघाट तथा दूसरा नालागढ़ क्षेत्र का

जिला सोलन में दो और कोरोना पीडि़तों ने दम तोड़ दिया है। इनमें से एक व्यक्ति सोलन के कंडाघाट तथा दूसरा नालागढ़ क्षेत्र का रहना वाला था। दोनों ही व्यक्ति बीते कई दिनों से बीमार चल रहे थे। कंडाघाट के रहने वाले व्यक्ति की उम्र 55 वर्ष बताई जा रही है। वह चंबाघाट में कार्यरत थे तथा बीते 14 सितंबर पर बीमार होने के कारण घर पर ही थे। दो दिन पूर्व ही इनका कोविड का टेस्ट हुआ था, जिसमें इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उन्हें कोविड डेडिकेटेड अस्पताल एमएमयू ले जाया गया, जहां पर इनकी मृत्यु हो गई। दूसरा मृतक नालागढ़ क्षेत्र का रहने वाला था। उनकी आयु 62 वर्ष थी। वह भी बीते काफी समय से बीमार चल रहे थे। करीब 15 दिन पूर्व इनकी कोरोना की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। इसके बाद इन्हें एमएमयू अस्पताल रैफर किया गया था। गौर रहे कि जिला में अब तक कोरोना से 25 मौतें हो चुकी हैं।

किडनी की बीमारी से पीडि़त युवक की बीमारी ने ली जान   

जिला चंबा में शुक्रवार को मेडिकल कालेज चंबा में उपचाराधीन 35 वर्षीय युवक की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। यह युवक किडनी रोग से भी ग्रसित था। शुक्रवार को इस युवक ने पठानकोट ले जाते वक्त बीच रास्ते में दम तोड़ दिया है। इसके साथ ही चंबा जिला में कोरोना संक्रमण से मरने वालों आंकड़ा नौ तक पहुंच गया है। सीएमओ चंबा डा. राजेश गुलेरी ने खबर की पुष्टि की है। बता दें कि करियां का 35 वर्षीय युवक किडनी रोग से ग्रस्त होने के चलते मेडिकल कालेज में उपचाराधीन था। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग ने एहतियात के तौर पर रैपिड एंटीजन टेस्ट से युवक का कोरोना सैंपल लिया था, जो कि पॉजिटिव पाया गया। स्वास्थ्य विभाग ने युवक के किडनी रोग से ग्रसित होने के चलते आईजीएमसी शिमला रैफर किया था, मगर परिजनों ने युवक को शिमला की बजाय पठानकोट ले जाने की इच्छा जताई। परिजन जब युवक को उपचार के लिए पठानकोट ले जा रहे थे तो उसकी रास्ते में मौत हो गई। चंबा जिला में कोरोना संक्रमण से अब तक कुल नौ लोगों की मौत हो चुकी है।

बिलासपुर मेें वायरस का प्रकोप

बिलासपुर – बिलासपुर से संबंधित व्यक्ति की कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद मौत हो गई। बिलासपुर के कंदरौर का यह व्यक्ति बताया जा रहा है। वह सांस की बीमारी से पीडि़त था। वह कंदरौर का प्रमुख व्यापरी था। इस तह जिला में अब सातवीं मौत कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति की हुई है। इसमें पांच मौत आईजीएमसी शिमला, एक मौत नयनादेवी क्षेत्र और एक मौत मंडी जिला में हुई है। चार लोग सदर क्षेत्र के तहत बरमाणा के दो, रघुनाथपुरा, कंदरौर और एक घुमारवीं के भराड़ी की महिला, एक व्यक्ति नयनादेवी गरा से संबंधित है। वहीं, एक व्यक्ति बैरी रजादियां से संबंधित था। उधर, इस बारे में सीएमओ बिलासपुर डा. प्रकाश दरोच ने कहा कि कोरोना संक्रमण के बाद एक व्यक्ति की मौत हुई है।

नेरचौक में एक और मौत

मंडी –  जिला मंडी में शुक्रवार को कोरोना संक्रमित एक मरीज की ब्रेन हैमरेज के चलते मौत हो गई। मृतक मंडी शहर के भगवान मोहल्ले का निवासी था। गुरुवार देर रात अचानक से तबीयत खराब होने के बाद उसे नेरचौक मेडिकल कालेज में उपचार के लिए भेजा गया, जहां शुक्रवार सुबह उक्त व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। इसके अलावा शुक्रवार पद्धर क्षेत्र में ही एक दिन में 12 लोग पॉजिटिव निकले हैं।

पांवटा में महिला ने ली अंतिम सांस

पांवटा साहिब – पांवटा साहिब के सिविल अस्पताल में उपचार के लिए लाई गई एक महिला की बीपी और शुगर बढ़ने से मौत हुई है। चिंता की बात यह है कि मौत के बाद जब महिला का कोविड-19 का सैंपल लिया गया तो उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया जा रहा है कि महिला को दो दिन से लगातार अस्पताल लाया जा रहा था। इससे अस्पताल प्रबंधन में भी हडकंप मच गया है। महिला के संपर्क में आए स्वास्थ्य स्टाफ की पहचान कर आइसोलेट किया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक पांवटा साहिब के कीरतपुर की 47 वर्षिय एक महिला को शुक्रवार सुबह सांस की दिक्कत के चलते परिजन सिविल अस्पताल पांवटा साहिब लाए। महिला का बीपी और शुगर काफी बढ़ गया था। उपचार के दौरान ही महिला की मौत हो गई।

The post बेकाबू हुआ कोरोना: सोलन में दो और संक्रमित मरीजों ने तोड़ा दम, एक कंडाघाट तथा दूसरा नालागढ़ क्षेत्र का appeared first on Divya Himachal.