Tuesday, November 30, 2021 08:51 AM

भाषण प्रतियोगिता में वैष्णवी पहले स्थान पर

निजी संवाददाता-घुमारवीं स्वामी विवेकानंद राजकीय महाविद्यालय घुमारवीं के रेड रिबन क्लब तथा जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग बिलासपुर के संयुक्त तत्त्वावधान में मंगलवार को एचआईवी एड्स जागरूकता पर एकदिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में कालेज प्राचार्य प्रो. रामकृष्ण मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम में जिला एड्स और टीबी कार्यक्रम अधिकारी डा. सुमित शर्मा ने मुख्य वक्ता के रूप में शिरकत की। महाविद्यालयों और विद्यालयों के विद्यार्थी एचआईवी और टीबी जैसी बीमारियों के बारे में अपने युवा साथियों से खुलकर बात कर इस बीमारी को रोकने में अहम भूमिका निभा सकते है। कार्यक्रम के मुख्यातिथि प्रो. रामकृष्ण ने इस सेमिनार के आयोजन के लिए रेड रिबन क्लब की टीम एवं नोडल आफिसर डा. जसवंत सिंह सैणी को बधाई देते हुए कहा कि युवा इस सेमिनार में दी गई जानकारी को केवल अपने तक ही सीमित न रखकर अपने परिवार और गांवों में लेकर जाएं तभी इन सेमिनारों की सही मायने में प्रासंगिकता साबित होगी।

कालेज की सभी समितियों के संयोजक प्रो. सुरेश शर्मा ने कहा कि शिक्षा केवल किताबी ज्ञान नहीं बल्कि विद्यार्थियों को समसामयिक चुनौतियों के लिए तैयार करना है। सेमिनार में रेड रिबन क्लब के नोडल अधिकारी डा. जसवंत सिंह सैणी ने मंच संचालन किया। विज्ञान संकाय की छात्रा ज्योत्स्ना ने महाविद्यालय के रेड रिबन क्लब की जानकारी दी। सेमिनार में रेड रिबन क्लब, जेंडर चैंपियन क्लब के शिवांश, कनिका शर्मा, पूनम, वैष्णवी, शिवानी, गरिमा, पूजा कुमारी और शिवानी देवी ने एचआईवी एड्स व रेड रिबन क्लब विषय पर पीपीटी और मौखिक भाषण में भाग लिया। इस प्रतियोगिता में वैष्णवी ने प्रथम, गरिमा ने द्वितीय तथा शिवांश ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। रेड रिबन क्लब की सदस्य डा. रीता कुमारी ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की ओर से आए मुख्य वक्ता डा. सुमित शर्मा, गोपाल, मुख्यातिथि व उपस्थित श्रोताओं का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस कार्यक्रम में सभी समितियों के संयोजक प्रो. सुरेश शर्मा, डा. महेंद्र सिंह भाटिया, डा. कुलदीप भरवाल, रेड रिबन क्लब के सदस्य प्रो. प्रवीण, डा. रीता कुमारी, एनएसएस प्रभारी प्रो. मनोरमा, डा. रिपन कुमार रेड रिबन क्लब नोडल अधिकारी, जेंडर चैंपियन क्लब के रेड रिबन क्लब की एंबेसडर सहित सभी प्राध्यापक एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।