Sunday, March 07, 2021 11:33 PM

कल्पा के ग्रामीणों को मिलेगी पांच सौ दिन की न्यूनतम दिहाड़ी

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-रिकांगपिओ परियोजना प्रभावित क्षेत्र कल्पा के ग्रामीणों को वन अधिकार अधिनियम के तहत 500 दिन का न्यूनतम दिहाड़ी दिए जाने के लिए  परियोजना प्रबंधन हिमाचल प्रदेश पावर कारपोरेशन पर दबाव बनाने में कामयाब होने पर कल्पा के ग्रामीणों ने प्रदेश वन निगम उपाध्यक्ष सूरत नेगी का धन्यवाद किया। इस दौरान कल्पा पंचायत घर में एक कार्यक्रम आयोजित कर ग्रामीणों को प्रथम किस्त के रूप में 100 दिन की दिहाड़ी मुख्य अतिथि द्वारा ग्रामीणों को चेक के माध्यम से प्रदान किया गया। बता दें कि बीते लंबे समय से कल्पा पंचायत क्षेत्र के ग्रामीण वन अधिकार अधिनियम के तहत शोंगठंग.-करछम परियोजना प्रबंधन से 500 दिन की दिहाड़ी की मांग कर रहे थे।

इस अधिकार को हासिल करने में कामयाब होने पर ग्रामीणों में मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश जयराम ठाकुर  सहित प्रदेश वन निगम उपाध्यक्ष सूरत नेगी धन्यवाद किया। इस अवसर पर पंचायत प्रधान कल्पा परवीन नेगी, कल्पा विकास कमेटी अध्यक्ष एवं महामंत्री किन्नौर भाजयुमो वियोम बिष्ट, किन्नौर भाजपा महामंत्री यशवंत नेगी, भाजपा कल्पा मंडल अध्यक्ष परविंदर नेगी, किन्नौर भाजपा मीडिया प्रभारी सुशील महता, प्रेस सचिव दीपक नेगी, सचिव विकास कमेटी कल्पा श्रीराम, उग्रसेन, महेंद्र, हेमंत सहित कई ग्रामीण उपस्थित थे।

The post कल्पा के ग्रामीणों को मिलेगी पांच सौ दिन की न्यूनतम दिहाड़ी appeared first on Divya Himachal.