रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली को रोहित शर्मा के सामने साबित करनी होगी अपनी फॉर्म

दुबई– अपनी खराब फॉर्म को लेकर सवालों के घेरे में आये रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली को सोमवार को यहां रोहित शर्मा की कप्तान वाली गत चैंपियन टीम मुंबई इंडियंस के खिलाफ होने वाले आईपीएल मुकाबले में अपनी फॉर्म साबित करनी होगी और आलोचकों को भी शांत करना होगा।

भारतीय रन मशीन और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक विराट आईपीएल के शुरूआती दौर में अपनी टीम के प्रदर्शन से ज्यादा अन्य कारणों से चर्चा में बने हुए हैं। विराट के लिए यह आठवां सत्र है जब वह बेंगलुरु की कप्तानी संभाल रहे हैं। उनकी टीम ने आईपीएल में विजयी शुरुआत की थी लेकिन विराट ने अपने बल्ले से अब तक निराश किया है। विराट पहले मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 14 रन बनाये जबकि किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ वह मात्र एक रन बनाकर आउट हो गए थे।

विराट ने पंजाब के खिलाफ केवल बल्ले से निराशाजनक प्रदर्शन नहीं किया था बल्कि उन्होंने विपक्षी कप्तान लोकेश राहुल का दो बार कैच छोड़ा जबकि वह खुद सिर्फ एक रन बनाकर आउट हुए थे। बेंगलुरु की टीम यह मैच 97 रन के बड़े अंतर से हारी थी। विराट के इस प्रदर्शन पर कमेंट्री कर रहे पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने यह टिप्पणी कर दी थी, “विराट को पता था कि जितना वह अभ्यास करेंगे उतना ही उनमें सुधार होगा। लेकिन कोरोना के कारण देश में जब लॉकडाउन था उस वक्त उन्होंने सिर्फ अनुष्का की बॉलिंग पर अभ्यास किया था। इससे उन्हें कोई मदद नहीं मिल सकती थी।”

विराट की पत्नी अनुष्का शर्मा ने गावस्कर की टिप्पणी पर सख्त आपत्ति करते हुए पलटवार करते हुए कहा था, “गावस्कर जी आपकी टिप्पणी अप्रिय है लेकिन मैं जानना चाहती हूं कि किसी के पति के खेल के कारण आप उसकी पत्नी को निशाना क्यों बना रहे हैं। मुझे यकीन है कि आपने इतने वर्षों में कमेंट्री करते हुए हर क्रिकेटर की निजी जिंदगी का सम्मान किया है तो आपको नहीं लगता कि आपको हमारे साथ भी समान व्यवहार करना चाहिए था।”

यह मामला चंद घंटों में ही इतना बड़ा विवाद बन गया कि गावस्कर को अपनी सफाई देनी पड़ गयी। मामला बढ़ता देख गावस्कर ने चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल के बीच शुक्रवार को मुकाबले के दौरान सफाई देते हुए कहा, “मैंने विराट और अनुष्का का वीडियो देखा था जिसमें अनुष्का विराट को बॉलिंग कर रही थीं। मेरा बयान इसी संदर्भ में था। जिन्होंने इसे मुद्दा बनाया है मैं उनसे कहना चाहता हूं कि वे पहले बात को पूरी तरह सुने फिर अपनी राय दें। मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है।”

 

विराट ने इस पूरे विवाद में अपनी तरफ से कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की है लेकिन मुंबई के खिलाफ होने वाले मुकाबले में उन्हें बल्ले से बेहतर प्रदर्शन करना होगा वरना उनकी खराब फॉर्म और अभ्यास की कमी को लेकर उठे विवाद को और हवा मिलेगी। विराट जानते हैं कि उनका मुकाबला भारत की सीमित ओवरों की टीम के उपकप्तान और चार बार के विजेता रोहित से है जो पहले मैच में सस्ते में आउट होने के बाद दूसरे मैच में फॉर्म में वापसी कर चुके हैं।

रोहित ने चेन्नई के खिलाफ रोहित ने 10 गेंदों में दो चौकों की मदद से 12 रन बनाये थे लेकिन कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ रोहित ने 54 गेंदों में तीन चौकों और छह छक्कों की मदद से 80 रन की विस्फोटक मैच विजयी पारी खेली थी। रोहित की इस पारी से मुंबई ने नाइट राइडर्स को एकतरफा अंदाज में 49 रन से हराया था।

मुंबई की टीम अपने कप्तान की फॉर्म वापसी से उत्साहित है जबकि बेंगलुरु को अपने कप्तान विराट से बड़ी पारी की जरूरत होगी। विराट जानते हैं कि मुंबई की टीम में जसप्रीत बुमराह के रूप में ऐसा गेंदबाज है जो उनके लिए परेशानी खड़ी कर सकता है। बुमराह ने कोलकाता के खिलाफ मुकाबले में एक ओवर में इंग्लैंड के इयोन मोर्गन और वेस्ट इंडीज के आंद्रे रसेल को आउट कर कोलकाता की कमर तोड़ दी थी।

मुंबई के पास बुमराह, ट्रेंट बोल्ट, जेम्स पेटिनसन और शानदार प्रदर्शन कर रहे लेग स्पिनर राहुल चाहर के रूप में ऐसे गेंदबाज है जो विकेट निकाल रहे हैं। विराट और उनके टीम साथी एबी डिविलियर्स को मुंबई के खिलाफ मुकाबले में बड़ी पारियां खेलनी होंगी तभी जाकर टीम मुंबई के खिलाफ जीत की उम्मीद कर पाएगी।

The post रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली को रोहित शर्मा के सामने साबित करनी होगी अपनी फॉर्म appeared first on Divya Himachal.

Related Stories: