Monday, August 20, 2018 10:02 AM

चुराह की चार पंचायतों के दर्जनों गांव अंधेरे में

चंबा— बर्फबारी व बारिश ने जिला की जिंदगी की रफ्तार पर ब्रेक लगा दी है। सोमवार को भरमौर व पांगी के अलावा सलूणी व तीसा की ऊंची पहाडि़यों पर जोरदार  बफबारी हुई है, जबकि निचले क्षेत्रों में बारिश का दौर जारी रहा। चुराह की चार पंचायतों में बिजली आपूर्ति ठप होने से दर्जनोंं गांव अंधेरे में डूब गए हैं।  बर्फबारी के कारण चंबा- जोत और डलहौजी- खजियार मार्ग भी वाहनों की आवाजाही के लिए बंद हो गया है। इसके अलावा चंबा मंडल के अधीन पड़ने वाले छह संपर्क मार्गों पर आंशिक तौर से यातायात भी बाधित रहा है। सोमवार को पर्यटनस्थल जोत में आधा फुट बर्फ गिरी है। तीसा उपमंडल के बैरागढ, देवीकोठी, टेपा, चांजू में भी आधा फुट के करीब बर्फबारी रिकार्ड गई है। जनजातीय क्षेत्र भरमौर की ऊपरी पहाडि़यों पर कुगति व जालसू जोत पर चार से पांच फुट और मुख्यालय में एक फुट के करीब बर्फ गिरी है। बफबारी-बारिश से किसानों व बागबानों के चेहरे भी खिल उठे हैं। किसान व बागवान  फसलों के लिए संजीवनी बता रहे हैं। बर्फबारी व निचले क्षेत्र में बारिश से तापमान में भारी गिरावट से ठंड भी प्रचंड हो गई है।